Sports

स्पोर्ट्स डेस्क : बिना हेलमेट पहले बल्लेबाजी करने के लिए मशहूर महान बल्लेबाज सर विवियन रिचर्ड्स (Vivian Richards) ने हाल ही में इस बात का खुलासा किया है कि वह हेलमेट क्यों नहीं पहनते थे। ऑस्ट्रेलिया के पूर्व खिलाड़ी शेन वॉटसन (Shane Watson) के साथ बातचीत के दौरान कहा कि खेल के प्रति मेरे में जुनून इतना था कि मर भी जाता तो दुख नहीं होता। 

PunjabKesari, Vivian Richards

जान जोखिम में डालने वाले खिलाड़ियों से थे प्रेरित

रिचर्ड्स ने कहा कि वह दूसरे खेलों में उन खिलाड़ियों से प्रेरित होते थे जो अपनी जान जोखिम में डालते थे। उन्होने कहा कि मैं दूसरे खेलों के पुरुष और महिला खिलाड़ियों को देखता था जो किसी भी हद तक अपने खेल का सम्मान करते थे। मैं फॉर्मूला-1 में रेसर को कार चलाते देखता था। इससे ज्यादा खतरनाक क्या हो सकता है। 

PunjabKesari, Vivian Richards

डेंटिस्ट ने दी थी माउथ गार्ड पहनने की सलाह 

इस 68 वर्षीय क्रिकेटर ने कहा कि उनके डेंटिस्ट ने माउथ गार्ड लगाने की सलाह दी थी, लेकिन उन्होंने कम ही उसका इस्तेमाल किया। इसका कारण बताते हुए रिचर्ड्स ने कहा कि माउथ गार्ड के इस्तेमाल से वह च्युइंग गम नहीं चबा पाता था, इसलिए मैंने नहीं लगाया। 

PunjabKesari, Vivian Richards

विव रिचर्ड्स क्रिकेट करियर 

गौर हो कि विव रिचर्ड्स ने 1991 में 15,000 अंतरराष्ट्रीय रन बनाने के बाद क्रिकेट से संन्यास लिया था। उन्होंने 121 टेस्ट मैचों की 182 पारियों में 8540 रन बनाए जिसमें उनका हाईएस्ट 291 था। वहीं वनडे में 187 मैचों की 167 इनिंग्स में बल्लेबाजी करते हुए 6721 बनाए अपने नाम किए। 

.
.
.
.
.