Sports

नई दिल्ली : भारतीय टेबल टेनिस महासंघ (टीटीएफआई) ने स्टार खिलाड़ी मनिका बत्रा के राष्ट्रीय कोच सौम्यदीप रॉय के खिलाफ मैच फिक्सिंग के आरोपों पर चर्चा के लिए शनिवार को कार्यकारी समिति की बैठक बुलाई है। टीटीएफआई के कारण बताओ नोटिस के जवाब में मनिका ने आरोप लगाया कि राष्ट्रीय कोच ने उन्हें मार्च में ओलंपिक क्वालीफायर के दौरान अपना मैच गंवाने को कहा था। महासंघ ने रॉय से लिखित जवाब मांगा था जो उन्होंने सौंप दिया है।

टीटीएफआई सचिव अरूण बनर्जी ने गुरूवार को कहा कि दोनों मनिका और रॉय की बात बैठक में सुनी जायेगी और जांच पैनल गठित किया जाएगा। सोनीपत में चल रहे राष्ट्रीय शिविर में मनिका को छोड़कर सभी खिलाड़ी पहुंच गए हैं जबकि जी साथियान भी एक या दो दिन में पहुंच जाएंगे जो पोलैंड में ट्रेनिंग करना चाहते थे। हाल में महासंघ ने बड़ी प्रतियोगिताओं में भाग लेने के लिए शिविर में खिलाड़ियों का शामिल होना अनिवार्य कर दिया था। इस महीने के अंत में दोहा में एशियाई चैम्पियनशिप आयोजित की जाएगी।

उन्होंने कहा कि नियम बहुत स्पष्ट हैं। चयन के लिये उपलब्ध होने के लिए आपको शिविर में हिस्सा लेना होगा। महासंघ कोविड-19 महामारी के चले और कुछ अन्य कारणों से पिछले तीन साल से ज्यादा समय से विदेशी कोच नियुक्त नहीं कर सकी है और वह जल्द से जल्द विदेशी कोच लाना चाहेगी। खिलाड़ियों के पास 2018 एशियाई खेलों के बाद से कोई पूर्णकालिक कोच नहीं है। 

.
.
.
.
.