Sports

स्पोर्ट्स डेस्क: अंदर बाहर ताश का खेल भारत में एक लोकप्रिय गेम है। यह एक अनोखा ताश गेम है जो दक्षिण भारत और उत्तर भारत में लोकप्रिय हुआ। इसे कट्टी के रूप में भी जाना जाता है। यह खेलने में काफी सरल है। इस खेल की उत्पत्ति कई शताब्दियों पहले बैंगलोर से हुई थी। तो चलिए आज हम आपको इस खेल के बारे में कुछ खास बाते जा रहे है। 

अंदर बाहर खेलने के ट्रिक्स 

अंदर बाहर कैसिनो में खेले जाने वाले सभी खेलों और कार्ड गेमों से अलग है। इस खेल में न ही आपको कार्ड दिए जाते हैं और न ही इसको खेलने के लिए पैसो की सख्त आवश्यकता होती है। आप इस खेल को जब चाहें, जहां चाहें, वहाँ खेल सकते हैं। इसकी यही सरलता शायद इस खेल को भारत के सबसे पसंदीदा कार्ड खेलों में से एक बनाती है। आप कितने भी नए खिलाड़ी हों, या भले ही आपको 5 सालों का तजुर्बा हो, इस साधारण से खेल को आज तक किसी ने भी अपने अधीन नहीं किया। ऐसा इसलिए है क्यूंकि यह खेल किसी के हिसाब से नहीं चलता है। आप चाहे तो 7 जैकपोट साइट पर रियल मनी अंदर बाहर एप्प के माध्यम से भी यह गेम खेल सकते हैं।इस खेल के नियम बेहद साधारण एवं समझने में आसान हैं। तो आइये जानते हैं कि इस खेल को कैसे खेला जाता है। 

खेलने की प्रक्रिया 

अगर आप किसी खेल को खेलते हुए भी आराम करना चाहते हैं तो यह खेल बिल्कुल आपके लिए ही बना है। आपको बस इस बात का अनुमान लगाना है कि बाजी मारने वाला कार्ड किस डिब्बे में गिरेगा। नहीं समझे? तो आइए पहले यह समझ लें कि “अंदर – बाहर” क्या होते हैं ?अंदर-बाहर दो डिब्बों के नाम हैं जहां खेल खेला जाता है। इनमे से कोई एक ही डब्बा जीत की चाभी होता है और दूसरे डिब्बे पर दांव लगाने वालों की हार हो जाती है। अंदर नाम का डिब्बा खिलाडी के बायीं तरफ रखा जाता है और बाहर नाम का डब्बा दाई तरफ रखा जाता है। तो अब जबकि आप यह जानते हैं कि अंदर और बाहर हैं, हम खेल प्रक्रिया की ओर प्रस्थान कर सकते हैं। अंदर बाहर खेल को मात्र चार पड़ाव में खेला जा सकता है।

जैसा की आपने ऊपर की पंक्तियों में पढ़ा होगा, यह पड़ाव बेहद साधारण और आसान हैं। 

पहले तो प्लेयर को डीलर द्वारा वितरित किये गए किन्ही 13 आकस्मिक कार्डों में से किसी एक कार्ड को चुनना होता है। खिलाडी के द्वारा चुना गया यह कार्ड ही इस खेल का ट्रम्प कार्ड कहलाता है। याद रहे कि इस कार्ड चुनने की प्रक्रिया के दौरान ही आपको दांव भी लगाना होगा। आप अंदर या बाहर नाम के डिब्बों में से किसी एक पर अपना दांव लगा सकते हैं। इसके बाद डीलर आपके द्वारा चुने गए कार्ड को दोनों डब्बों के बीच रखता है और बाकी सभी कार्डों को फिर से फ़ेंटता है। फेंटने के बाद वह उन कार्डों को दोनों डिब्बों में बांटना शुरू करता है। अगर पलटा जाने वाला पहला कार्ड काले रैंक का होता है तो पहले कार्ड अंदर डब्बे से बांटा जाता है अथवा बाहर डिब्बे से।

तीसरे पड़ाव में डीलर इन कार्डों को एक-एक करके दोनों डिब्बों में बांटने लगता है। इसी दौरान आप इस खेल पर एक ऊपरी सट्टा लगा भी सकते हैं। हालांकि ऊपरी सट्टा लगाना खेल के लिए अनिवार्य नहीं है। अब जब डीलर कार्डों को एक-एक करके बाँट रहा हो, इस दौरान आपको कुछ नहीं करना बल्कि आप आराम से आसन रूप में बैठ कर खेल का मजा ले सकते हैं। इस पड़ाव का अंत तब होता है जब किसी एक डब्बे में आपके द्वारा चुने गए कार्ड के बराबर का दूसरा कार्ड गिरता है। ऐसी स्थिति में अगर आपने उसी डब्बे पर सट्टा लगाया हो तो आप जीत जाते हैं। है ना आसान?

.
.
.
.
.