Sports

सिडनी: ऑस्ट्रेलियाई टेस्ट कप्तान टिम पेन ने एडिलेड टेस्ट से पहले भारतीय कप्तान विराट कोहली पर निशाना साधा है। भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच 6 दिसंबर से एडिलेड में पहला टेस्ट खेला जाएगा। पेन का मानना है कि ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाजी आक्रमण में इतना दम है जो भारतीय कप्तान कोहली को आसानी से परेशान कर सकते हैं।

ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज करेंगे कोहली को परेशान
Sports news, Cricket news in hindi, Australian Test captain, Tim Paine, Captain Virat Kohli, Test Series, Adelaide

पेन ने क्रिकेट एक वेबसाइट से कहा, ‘मुझे लगता है कि अगर हमारा तेज गेंदबाजी आक्रमण अपने कौशल के अनुरूप प्रदर्शन करता है तो वे उसे कोहली को परेशान कर पाएंगे।’ उन्होंने कहा, ‘कभी कभी जब हम काफी अधिक भावुक हो जाते हैं तो हम अपनी राह से थोड़ा भटक सकते हैं। मुझे यकीन है कि ऐसा समय भी आएगा जब वे तूफानी गेंदबाजी कर रहे होंगे। लेकिन हमें अपना धैर्य बरकरार रखने की जरूरत है जिससे कि हम अपने कौशल के अनुरूप काम कर सकें।’    

आॅस्ट्रेलियाई टीम की बदलती संस्कृति पर काफी चर्चा
Sports news, Cricket news in hindi, Australian Test captain, Tim Paine, Captain Virat Kohli, Test Series, Adelaide

स्टीव स्मिथ और डेविड वार्नर पर एक-एक साल के प्रतिबंध के बाद आॅस्ट्रेलियाई टीम की बदलती टीम संस्कृति पर काफी चर्चा हो रही है। कोच जस्टिन लैंगर ने भी मैदान पर प्रतिस्पर्धी होने के साथ-साथ सिद्धांतों के शीर्ष पर भी होने के महत्व पर बल दिया है। कोहली इससे पहले भी दो बार आॅस्ट्रेलिया का दौरा कर चुके हैं और आम तौर पर आक्रामक रुख अपनाने वाले भारतीय कप्तान ने कहा है कि आॅस्ट्रेलिया के खिलाफ आगामी श्रृंखला में मैदान पर छींटाकशी की शुरुआत उनकी ओर से नहीं होगी।          

कोहली को निशाना बनाने से नहीं डरेंगे
Sports news, Cricket news in hindi, Australian Test captain, Tim Paine, Captain Virat Kohli, Test Series, Adelaide

पेन ने कहा कि अगर जरूरत पड़ी को उनकी टीम कोहली को निशाना बनाने से नहीं हिचकिचाएगी लेकिन वे अपना काम सतर्कता के साथ करेंगे। पेन ने कहा, ‘मैंने जो देखा है उसके अनुसार वह ऐसा व्यक्ति है जिसे इस तरह की चीजें पसंद हैं।’ उन्होंने कहा, ‘अगर ऐसा समय आया कि हमें उसे कुछ बोलने की जरूरत होगी तो मुझे लगता है कि हमें उसे कुछ कहना होगा, मुझे यकीन है कि हम ऐसा करेंगे। अगर हम उसके खिलाफ अच्छी गेंदबाजी कर रहे होंगे और उसे परेशान कर रहे होंगे तो मुझे नहीं लगता कि हमें उसे कुछ बोलने की जरूरत है।’      

.
.
.
.
.