Sports

नई दिल्ली : भारत के डेनमार्क के खिलाफ होने वाले अगले डेविस कप मुकाबले के लिए स्थान के चयन की प्रक्रिया गुरुवार से शुरू हो गई। अखिल भारतीय टेनिस संघ (एआईटीए) अगले साल चार और पांच मार्च को होने वाले विश्व ग्रुप एक के मुकाबले के लिए खिलाड़ियों से उनके पसंदीदा कोर्ट और संभावित राज्य संघ को लेकर बात कर रहा है। भारत को तीन साल बाद डेविस कप मुकाबले की मेजबानी सौंपी गई है।

एआईटीए के महासचिव अनिल धूपर ने कहा कि कप्तान रोहित राजपाल खिलाड़ियों से बात करके पता करेंगे कि घरेलू टीम के लिये सर्वश्रेष्ठ कोर्ट कौन सा होगा। धूपर ने कहा कि हमें दो दिन में पता चल जाएगा कि हम इस मुकाबले की मेजबानी कहां करेंगे। एक बार जब हमें खिलाड़ियों की कोर्ट को लेकर पसंद पता चल जाएगी तो हम देखेंगे कि इस लिहाज से कौन सा स्थान सर्वश्रेष्ठ होगा। खिलाड़ी यदि हार्डकोर्ट पर खेलना पसंद करते हैं तो दिल्ली लॉन टेनिस संघ (डीएलटीए) या मध्य प्रदेश टेनिस संघ (इंदौर) को मेजबानी सौंपी जा सकती है। 

एआईटीए के एक अधिकारी ने कहा कि मुझे लगता है कि दिल्ली इन मैचों की मेजबानी करेगा क्योंकि दिल्ली ने हाल में किसी बड़ी प्रतियोगिता की मेजबानी नहीं की है। यह भारत और डेनमार्क के बीच सितंबर 1984 के बाद पहला मुकाबला होगा। तब आरहस में खेले मुकाबले में भारत ने 3-2 से जीत दर्ज की थी। 

.
.
.
.
.