Sports

कांति मनसीस्क ,रूस ( निकलेश जैन ) में तकरीबन एक माह से चल रहे फीडे शतरंज विश्व कप के खिताब को आखिकर  उसका विजेता मिल गया । अजरबैजान के तैमूर राजदाबोव नें फ़ाइनल टाईब्रेक में चीन के डिंग लीरेन को 6-4 से पराजित करते हुए विश्व कप का खिताब अपने नाम कर लिया । दोनों के बीच पहले ही चार क्लासिकल मुकाबलो में परिणाम नहीं आया था, जहां पहले और चौंथे मैच में परिणाम नहीं निकला था तो दूसरे में डिंग तो तीसरे में तैमूर नें जीत दर्ज की थी और इस प्रकार क्लासिकल का परिणाम 2-2 रहा था । 
टाईब्रेक 

PunjabKesari
पहले टाईब्रेक में  25 मिनट और 10 सेकंड प्रति चाल के दो मुक़ाबले खेले गए । पहले मैच में डिंग तो दूसरे में तैमूर बढ़त बनाते तो नजर आए पर उसे जीत में नहीं बदल सके और परिणाम ड्रॉ रहा मतलब स्कोर 3-3 हो गया । 

PunjabKesari
दूसरे टाईब्रेक में 10 मिनट और 10 सेकंड प्रति चाल के दो मुक़ाबले खेले गए । इन दोनों मुकाबलों में तैमूर बेहद बेहतरीन स्थिति में आ गए पर समय में वह डिंग से काफी पीछे हो जा रहे थे और यही पर डिंग दोनों बार वापसी करने में सफल रहे और फिर दोनों मुक़ाबले बराबरी पर समाप्त हो गए मतलब स्कोर  4-4 हो गया । 

PunjabKesari
तीसरा टाईब्रेक अंततः निर्णायक बना । इसमें 5 मिनट और 3 सेकंड प्रति चाल के दो मुक़ाबले खेले गए । लगभग हर टाईब्रेक में बेहतर कर रहे तैमूर इस बार काफी तेज खेले ।  पहले मुक़ाबले में काले मोहरो से खेलते हुए तैमूर नें जीत दर्ज कर दी और 5-4 से आगे हो गए तो

PunjabKesari

दूसरे मुक़ाबले में भी डिंग के खतरा लेने की कोशिश के बीच तैमूर नें दूसरा मुक़ाबला भी जीतकर 6-4 से विश्व कप फ़ाइनल जीत लिया ।  

देखे विश्व कप फ़ाइनल के इस रोमांचक टाईब्रेक के खास लम्हे हिन्दी चेसबेस इंडिया के सौजन्य से 

PunjabKesari

वही तीसरे स्थान के लिए हुए मुक़ाबले में फ्रांस के मेक्सिम लागरेव नें चीन के यू यांगयी को दोनों रैपिड टाईब्रेक में मात देकर सीधे 4-2 से जीत दर्ज करते हुए तीसरा स्थान हासिल कर लिया । 
प्रतियोगिता में कुल 16 लाख अमेरिकन डॉलर की पुरूष्कार राशि खिलाड़ियों के बीच बांटी गयी । तैमूर को 1,10,000 डॉलर , डिंग को 80 हजार तो मेक्सिम को 60 हजार डॉलर दिये गए । 

.
.
.
.
.