Sports

लंदन: पूर्व ऑफ स्पिनर ग्रीम स्वान ने वेस्टइंडीज के खिलाफ हाल ही में खत्म हुई श्रृंखला के पहले टेस्ट में नयी गेंद से गेंदबाजी करने वाली स्टुअर्ट ब्रॉड और जेम्स एंडरसन की जोड़ी को एक साथ टीम में नहीं रखने की आलोचना करते हुए कहा कि आप 500 विकेट लेने वाले गेंदबाज की अनदेखी नहीं कर सकते। ब्रॉड को टीम से बाहर रखने का खामियाजा इंग्लैंड को हालांकि भुगतना पड़ा और वेस्टइंडीज ने इस मैच को चार विकेट से अपने नाम कर लिया। 

इंग्लैंड के लिए 60 टेस्ट में 255 विकेट लेने वाले स्वान ने कहा, ‘इंग्लैंड की अब तक की सबसे सफल गेंदबाजी साझेदारी को तोड़ना कितना बेवकूफी भरा था यह हमें मैच गवांने के बाद पता चला।' उन्होंने सवाल करते हुए कहा, ‘एंडरसन और ब्रॉड टेस्ट के सबसे सफल गेंदबाज जोड़ीदारों में से एक है।आप किसी को समय से पहले टीम से बाहर क्यों निकालना चाहते हैं? मैं 90 मील प्रतिघंटे की रफ्तार से लगाव के बारे में नहीं समझ पा रहा हूं। जोफ्रा (आर्चर) और मार्क (वुड) टीम के भविष्य हैं।' 

उन्होंने कहा, ‘मैं माफी चाहूंगा, लेकिन आप 500 विकेट लेने वाले गेंदबाज को इतनी आसानी से नहीं निकाल सकते।' ब्रॉड और एंडरसन ने मिलकर टेस्ट में 1,090 विकेट हासिल किए हैं, जिनमें से 895 उन्होंने 117 टेस्ट में साथ खेलते हुए साझा किये हैं। दूसरे टेस्ट में ब्रॉड की वापसी हुई और उन्होंने छह विकेट झटक कर टीम को 113 रन से जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई। ब्रॉड तीसरे टेस्ट में 10 विकेट लेने के साथ टेस्ट क्रिकेट में विकटों की संख्या 500 तक पहुंचाने वाले चौथे तेज गेंदबाज बने। उन्होंने इस मैच में 62 रन की अहम पारी भी खेली और मैन ऑफ द मैच चुने गये।

.
.
.
.
.