Sports

संचियोन : शीर्ष भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधू और किदाम्बी श्रीकांत ने शुक्रवार को यहां अलग अलग तरीके से अपने मुकाबले जीतकर कोरिया ओपन सुपर 500 बैडमिंटन टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में प्रवेश किया। दो बार की ओलंपिक पदक विजेता और तीसरी वरीय सिंधू ने महिला एकल क्वार्टरफाइनल में थाईलैंड की बुसानन ओंगबाम्रुंगफान पर 21-10 21-16 से अपनी 17वीं जीत दर्ज की। 

अब वह अगले मुकाबले में जापान की साएना कावाकामी और दूसरी वरीय कोरियाई एन सेयंग के बीच होने वाले मैच की विजेता के सामने होंगी। विश्व चैम्पियनशिप के रजत पदक विजेता श्रीकांत ने पुरूष एकल स्पर्धा में स्थानीय खिलाड़ी सोन वान हो पर तीन गेम से जीत हासिल की। विश्व रैंकिंग में पहले शीर्ष में रह चुके दोनों खिलाड़ियों के बीच मुकाबले में श्रीकांत ने अपने ताकतवर और सटीक शॉट से सोन वान हो को एक घंटे से जरा ज्यादा चले क्वार्टरफाइनल में 21-12 18-21 21-12 से पराजित किया।

श्रीकांत का रिकॉर्ड इस कोरियाई खिलाड़ी के खिलाफ 4-7 का है जिससे वह पिछले तीन मौकों पर हार गए थे। हालांकि भारतीय खिलाड़ी ने शुक्रवार को बेहतर प्रदर्शन करते हुए सोन वान हो को पराजित किया जो दो साल के बाद अंतरराष्ट्रीय बैडमिंटन में वापसी कर रहे हैं। पांचवें वरीय श्रीकांत का सामना अब थाईलैंड के आठवें वरीय कुनलावुत विदितसर्ण और इंडोनेशिया के तीसरे वरीय जोनाथन क्रिस्टी के बीच होने वाले मुकाबले के विजेता से होगा। 

महिला एकल में सिंधू को बुसानन को हराने में कोई दिक्कत नहीं हुई जिसे उन्होंने पिछले महीने स्विस ओपन फाइनल में हराया था। थाईलैंड की खिलाड़ी ने शुरू में 5-2 की बढ़त बना ली थी लेकिन बाद में सिंधू ने अपना शिकंजा कस लिया। सिंधू ने 11-7 की बढ़त के बाद आठ अंक जुटाकर आसानी से गेम अपने नाम किया। दूसरे गेम में भी चीजें समान रहीं जिसमें सिंधू ने 8-2 की बढ़त के बाद थाईलैंड की खिलाड़ी को पस्त किया। 

पुरूष एकल में श्रीकांत ने पहले गेम में बेहतर नियत्रंण दिखाते हुए 11-6 की बढ़त हासिल कर ली थी लेकिन सोन वान हो ने जल्द ही इसे 12-14 कर दिया। पर भारतीय खिलाड़ी ने जल्द ही वापसी करते हुए पहला गेम जीत लिया। कोरियाई खिलाड़ी ने दूसरे गेम में शानदार वापसी की और 10-7 की बढ़त बना ली लेकिन श्रीकांत जल्द ही 13-11 से आगे हो लिए। 

सोन वान हो ने भी वापसी की और यह गेम जीत लिया। जिससे फैसला निर्णायक गेम से होना था जिसमें श्रीकांत ने 4-0 से अच्छी शुरूआत की लेकिन वह 4-6 से पिछड़ गये। हालांकि उन्होंने आक्रामक रिटर्न और सटीक शॉट से वापसी कर ब्रेक तक इसे 11-7 कर दिया। उन्होंने बढ़त जारी रखते हुए इसे 16-10 करने के बाद सटीक रिटर्न से आठ मैच प्वांइट हासिल कर जीत दर्ज की। 

.
.
.
.
.