Sports

नई दिल्लीः भारतीय क्रिकेट टीम में ऐसी स्थिति बन चुकी है कि अगले साल होने वाले विश्व कप के लिए सही प्लेइंग इलेवन चुनना कोच आैर कप्तान के लिए बड़ी चुनाैती जैसा बन गया। जिस खिलाड़ी को माैका मिल रहा वो अपना शत-प्रतिशत दे रहा जिस कारण दूसरा बल्लेबाज फिर बेंच पर बैठने को मजबूर है। विंडीज के खिलाफ वनडे सीरीज के शुरूआती 4 मुकाबले में केएल राहुल को प्लेइंग इलेवन में माैका नहीं दिया गया, जिसपर साैरव गांगुली ने नाराजगी जाहिर की। 

गांगुली का कहना है, “मेरा मानना है कि केएल राहुल को बैंच पर बैठाकर रखना ठीक नहीं है। उसे खेलने का मौका मिलना चाहिए। हमें मिडल ऑर्डर पर ध्‍यान देने की जरूरत है। ” गांगुली ने कहा, “वेस्‍टइंडीज की टीम जो काम विशाखापत्‍तनम वनडे के दौरान नहीं कर पाई उसे उन्‍होंने पुणे में करके दिखाया। टेस्‍ट सीरीज में बुरी तरह हार के बाद जेसन होल्‍डर ने अच्‍छा नेतृत्‍व दिखाया। शाई होप, शिमरोन हेटमेयर, एशले नर्स ने दिखाया कि वो कैरेबियन क्रिकेट का भविष्‍य हैं।”
KL Rahul, गांगुली बोले- राहुल को बैंच पर बैठाना ठीक नहीं, उसे खेलने का माैका देना चाहिए

सौरव गांगुली ने विराट कोहली की तारीफ करते हुए कहा, “हर कोई विराट की तुलना किसी न किसी खिलाड़ी से कर रहा है। कोई कह रहा है कि वो सचिन के 100 शतक का रिकॉर्ड तोड़ेगा। उसकी तुलना पूर्व के दिग्‍गजों से करने की जगह हमें उसके खेल को इंज्‍वाय करना चाहिए। वो शानदार प्रदर्शन कर रहा है। उसके अंदर रन बनाने की भूख साफ नजर आती है।”
 

.
.
.
.
.