Sports

नई दिल्ली : भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) अभी चोटिल शुभमन गिल की जगह भरने के लिए पृथ्वी शॉ और देवदत्त पडिक्कल को इंग्लैंड नहीं भेजेगा। भारतीय टीम प्रबंधन ने 28 जून को अपने प्रशासनिक मैनेजर गिरीश डोंग्रे के जरिए इन दोनों सलामी बल्लेबाजों को भेजने के लिए कहा था। चयनसमिति के अध्यक्ष चेतन शर्मा ने हालांकि दो दिन पहले तक इस मेल का आधिकारिक जवाब नहीं भेजा था। चयनसमिति किसी अन्य बल्लेबाज को इंग्लैंड भेजने के मूड में नहीं है क्योंकि चार सलामी बल्लेबाज पहले ही टीम में हैं।

बीसीसीआई के सूत्रों ने गोपनीयता की शर्त पर कहा कि पृथ्वी श्रीलंका में ही रहेगा और 26 जुलाई तक सीमित ओवरों के मैचों में खेलेगा। उसे चुना गया है और उसे वह जिम्मेदारी निभानी चाहिए। उन्होंने कहा कि श्रीलंका श्रृंखला समाप्त होने के बाद संभावनाओं को तलाशा जाएगा लेकिन अभी ऐसा कुछ नहीं है। टीम प्रबंधन इसलिए दो सलामी बल्लेबाजों को चाहता है क्योंकि वे अभिमन्यु ईश्वरन की तकनीक से प्रभावित नहीं हैं। रिपोर्टों के अनुसार वह टीम के थ्रोडाउन विशेषज्ञ राघवेंद्र का सामना करने में भी खुद को सहज नहीं पाते हैं।

.
.
.
.
.