Sports

स्पोर्ट्स डेस्क : पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर शाहिद अफरीदी ने एक बार फिर भारत के आंतरिक मामलों में दखल दिया। अफरीदी ने जम्मू-कश्मीर के अलगाववादी नेता यासीन मलिक का समर्थन किया और कहा कि वह इस मुद्दे को यूनाईटिड नेशंस में लेकर जाने वाले हैं। अफरीदी के इस बयान पर अब भारत में उनकी खूब आलोचना हो रही है। वहीं अफरीदी की इस हरकत भाजपा ने एक नेता ने उन्हें आतंकवादी तक घोषित कर दिया है।

PunjabKesari

अफरीदी के यासीन मलिक वाले बयान के बाद भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव तरुण चुघ ने भी सामने आए हैं। तरुण चुघ ने ट्वीट करते हुए लिखा कि शाहिद अफरीदी कोई क्रिकेटर नहीं हैं बल्कि वह एक आतंकवादी हैं! 

अफरीदी ने किया था यह ट्वीट

शाहिद अफरीदी ने अलगावादी नेता यासीन मलिक पर ट्वीट करते हुए लिखा कि अपने मानवाधिकार के हनन के खिलाफ आवाज उठाने वालों को भारत जिस तरह से चुप कराने की कोशश कर रहा है। वह एकदम व्यर्थ है। यासीन मलिक के खिलाफ मनगढ़ंत आरोप कश्मीर की आजादी के संघर्ष को रोक नहीं पाएंगे। कश्मीर के नेता के खिलाफ इस तरह के अवैध ट्रायल्स को लेकर मैं यूएन से अपील करता हूं कि वह इस मामले पर ध्यान दें।

अमित मिश्रा ने दिया था मुंहतोड़ जवाब

भारत के लेग स्पिनर अमित मिश्रा ने शाहिद अफरीदी के इस ट्वीट पर मुंहतोड़ जवाब दिया है। अमित मिश्रा ने ट्वीट करते हुए लिखा कि शाहिद अफरीदी यासीन मलिक ने खुद अदालत में अपना जुर्म कबूला है। आपकी जन्म तिथि की तरह सब कुछ गलत नहीं होता।

.
.
.
.
.