Sports

 

लंदन : सात बार की चैम्पियन सेरेना विलियम्स ने गुरूवार को आसानी से विम्बलडन टेनिस ग्रैंडस्लैम टेनिस टूर्नामेंट के महिला वर्ग के फाइनल में प्रवेश किया जहां उनका सामना रोमानिया के लिये इतिहास रचने वाली सिमोना हालेप से होगा। ग्यारहवीं वरीयता प्राप्त सेरेना इस तरह मारग्रेट कोर्ट के 24 ग्रैंडस्लैम खिताब के रिकार्ड की बराबरी करने से महज एक कदम दूर हैं। वह बेटी को जन्म देकर वापसी के बाद दो बार आस्ट्रेलियाई खिलाड़ी मारग्रेट के रिकार्ड की बराबरी करने से चूक चुकी हैं। एक बार पिछले साल का विम्बलडन फाइनल और फिर अमेरिकी ओपन में मिली हार में।

सेरेना ने सेमीफाइनल में गैरवरीयता प्राप्त चेक गणराज्य की बारबोरा स्ट्राइकोवा को एक घंटे में 6-1 6-2 से हराकर शनिवार को होने वाली खिताबी भिड़ंत में जगह सुनिश्चित की और यह उनका 11वां विम्बलडन फाइनल भी है। सेरेना का करियर में हालेप पर जीत का रिकार्ड 9-1 है। सैंतीस वर्षीय सेरेना ने मैच के बाद कहा, ‘मेरा इस साल जो प्रदर्शन रहा है, उसके बाद फिर से फाइनल में पहुंचकर अच्छा महसूस हो रहा है। 'उन्होंने कहा, ‘मुझे सिर्फ अच्छा महसूस करने के लिए मैचों की जरूरत थी ताकि मैं उसमें अच्छा कर सकूं जो मैं करना चाहती हूं और वो है टेनिस खेलना। मैं जो करती हूं, वो मुझे पसंद है। मेरा काम बढ़िया है और मैं इसमें काफी अच्छी भी हूं। मैं हर बार अच्छा अनुभव हासिल करती हूं।' वहीं 2018 की फ्रेंच ओपन चैम्पियन और पूर्व नंबर एक खिलाड़ी हालेप यूक्रेन की एलिना स्वितोलिना को एक घंटे से जरा ज्यादा समय में 6-1 6-3 से आसानी से हराकर विम्बलडन के फाइनल में पहुंचने वाली पहली रोमानियाई महिला खिलाड़ी बन गई।

इस 27 वर्षीय सातवीं वरीयता प्राप्त खिलाड़ी का यह पांचवां ग्रैंडस्लैम फाइनल होगा। वह 2014 में सेमीफाइनल में पहुंची थी लेकिन यूजेनी बुकार्ड से हार गई थी। रोमानिया के लिये इतिहास रचने वाली हालेप ने कहा, ‘यह शानदार अहसास है लेकिन मैं उत्साहित भी हूं और नर्वस भी। यह मेरी जिंदगी के सर्वश्रेष्ठ क्षणों में से एक है।' स्वितोलिना यूक्रेन के लिये ग्रैंडस्लैम के सेमीफाइनल में पहुंचने वाली पहली महिला खिलाड़ी बनी थीं। हालेप से होनी वाली भिड़ंत के बारे में सेरेना ने कहा कि वह उसे हलके में नहीं लेंगी। सेरेना ने कहा, ‘वह कड़ी प्रतिद्वंद्वी है। हमारे मैच हमेशा अच्छे रहे हैं और मैं इसके लिए तैयार हूं।' 

.
.
.
.
.