Sports

नई दिल्ली : टीम इंडिया के पूर्व सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग रिटायरमैंट के बाद न सिर्फ फनी कमेंट्री और सोशल मीडिया पर अपने पोस्ट के लिए जाने जा रहे हैं बल्कि अपनी जिंदगी में वह कुछ ऐसे काम भी कर रहे हैं जिसे जाकर उनके फैंस का सीना गर्व से चौड़ा हो जाएगा। फरवरी में हुए पुलवामा अटैक के दौरान भारतीय सेना के कई जवान शहीद हो गए थे। सहवाग ने दो शहीदों के बेटों को अपनी क्रिकेट एकेडमी में ट्रेनिंग देने का जिम्मा उठाया है। दोनों ही क्रिकेटर टीम इंडिया के लिए खेलने का सपना रख रहे हैं।

Sehwag is teaching cricket to sons of martyred soldiers in Pulwama attack

सहवाग के झज्जर स्थित इंटरनेशनल स्कूल में अर्पित सिंह और राहुल सोरेंग नाम के दो बच्चे पढ़ते हैं। ये दोनों ही बच्चे पुलवामा हमले में शहीद हुए दो जवानों के हैं। अर्पित के पिता शहीद राम वकील और राहुल सोरेंग के पिता विजय सोरेंग 14 फरवरी को हुए आतंकी हमले में शहीद हो गए थे। इसके बाद से सहवाग ने इन दोनों बच्चों को अपने स्कूल में मुफ्त शिक्षा और एकेडमी में क्रिकेट ट्रेनिंग दे रहे हैं।

Sehwag is teaching cricket to sons of martyred soldiers in Pulwama attack

सहवाग ने अपने ट्विटर अकाऊंट में इन बच्चों की तस्वीरें पोस्ट की। इसमें अर्पित बल्लेबाजी तो सोरेंग गेंदबाजी करते दिख रहे हैं। सहवाग ने पोस्ट में लिखा है- हीरोज के बेटे... सहवाग स्कूल में इन दोनों बच्चों का पढऩा हमारे लिए सौभाग्य की बात है।

.
.
.
.
.