Sports

मॉस्कोः रूस के फुटबाॅल विश्वकप क्वार्टरफाइनल में हारकर बाहर हो जाने के बाद उसके सबसे अनुभवी खिलाड़ी सर्गेई इग्नाशेविच ने निराशा में कुछ ही घंटे बाद अपने करियर से संन्यास ले लिया है। रूस को अपनी मेजबानी में हो रहे फीफा विश्वकप में उसे क्रोएशिया से पेनल्टी शूटआउट में हारकर बाहर होना पड़ा था। 

PunjabKesari

38 साल के रूसी डिफेंडर ने अपना सारा समय रूसी क्लबों के साथ बिताया और विश्वकप में अपनी टीम को क्वार्टरफाइनल तक पहुंचाने में अहम भूमिका निभाई थी। वह टूर्नामेंट के सभी पांचों मैचों में खेले थे। अंतरराष्ट्रीय फुटबाॅल महासंघ(फीफा) ने बताया कि सर्गेई ने 127 मैचों में खेला और नौ गोल किये। वह अंतरराष्ट्रीय मैचों में खेलने वाले रूस के सबसे अनुभवी फुटबाॅलर हैं। वह वर्ष 2005 में सीएसकेए मॉस्को के यूईएफए कप खिताब के दौरान टीम के कप्तान रहे थे।  

PunjabKesari

रूसी खिलाड़ी ने वीडियो पोस्ट के जरिए संन्यास की घोषणा करते हुए कहा, यह मेरा आखिरी विश्वकप था और मेरे अंतरराष्ट्रीय करियर का भी आखिरी मैच। यदि मैं विश्वकप के लक्ष्य के लिए नहीं खेल रहा होता तो बहुत पहले ही संन्यास ले लिया होता। उन्होंने कहा, इस विश्वकप से मेरा हौंसला बहुत बढ़ा है। मुझे बहुत मजा आया और शांति महसूस कर रहा हूं कि अपने करियर को अच्छे स्तर पर छोड़ रहा हूं। मैंने एक महान टीम के साथ और बढिय़ा कोचों के साथ खेला जिसके खिलाड़ियों ने खेल के लिए अपना पूरा योगदान दिया है।

.
.
.
.
.