Sports

अहमदाबाद : इंग्लैंड के कप्तान जो रूट ने गुरुवार को कहा कि मोटेरा की पिच टेस्ट क्रिकेट के लिए उपयुक्त थी या नहीं यह फैसला करना खिलाड़ियों का नहीं बल्कि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) का काम है। इंग्लैंड दोनों पारियों में 112 और 81 रन आउट हो गया और भारत ने 10 विकेट से मैच जीता लेकिन रूट ने पिच को इसके लिए दोष देना उचित नहीं समझा। 

उन्होंने हालांकि कहा कि आईसीसी को टेस्ट क्रिकेट के लिए अनुकूल पिच को लेकर विचार करना चाहिए। रूट ने कहा, ‘मुझे लगता है कि यह पिच काफी चुनौतीपूर्ण था। यह बल्लेबाजी के लिए बेहद मुश्किल थी। इसका फैसला खिलाड़ी नहीं करेंगे कि यह खेल के लिए उपयुक्त थी या नहीं। यह आईसीसी का काम है।' 

उन्होंने कहा, ‘एक खिलाड़ी के रूप में हमें जैसी भी परिस्थितियां हों उनमें अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना होता है।' रूट ने कहा कि उनकी टीम पहली पारी में बड़ा स्कोर बनाने का मौका गंवा बैठी जो कि संभव लग रहा था। उन्होंने कहा, ‘हम निराश है। मुझे लगता है कि हमने मौके गंवाए विशेषकर पहली पारी में। हमारा स्कोर एक समय दो विकेट पर 71 रन था और हमारे पास बड़ा स्कोर करने का वास्तव में अच्छा मौका था।' 

.
.
.
.
.