Sports

दुबई : कप्तान के रूप में जीत के साथ टी20 विश्व कप से विजयी विदाई लेने वाले विराट कोहली ने नामीबिया के खिलाफ 9 विकेट से शानदार जीत के बाद कहा कि भारत की कप्तानी करना गर्व की बात है और उन्हें लगा कि उनके कार्यभार को मैनेज करने का यह सही समय था। 

विराट ने मैच के बाद कहा, ‘कप्तानी करना अच्छी जिम्मेदारी थी। एक टीम के रूप में हमने अच्छा प्रदर्शन किया, भले ही हम इस विश्व कप में आगे नहीं जा पाए। जिस तरह से हमने पिछले तीन मैच खेले हैं, वह सकारात्मक बात रही है। हम टॉस का बहाना देने वाली टीम नहीं है। पहले दो मैचों में हम निडर नहीं थे। 

मुख्य कोच रवि शास्त्री सहित समस्त स्पोर्ट्स स्टाफ को धन्यवाद देते हुए विराट ने कहा, ‘मैं सभी कोच का धन्यवाद करता हूं। हम उनके आभारी है क्योंकि उन्होंने इस टीम में एक संस्कृति बनाई है। हम सभी खिलाड़ियों की ओर से मैं उनका आभार व्यक्त करता हूं। अगर मैं जोश के साथ नहीं खेल पाऊंगा, तो मैं क्रिकेट खेलना छोड़ दूंगा। मैं हमेशा अपना 120 प्रतिशत देने की कोशिश करता हूं। मुझे लगा कि सूर्या को ज्यादा मौके नहीं मिले तो विश्व कप की अच्छी यादें बटोरने का अवसर दिया हमने। 

प्लेयर ऑफ द मैच बने लेफ्ट आर्म स्पिनर रवींद्र जडेजा ने कहा, मुझे गेंदबाजी करने में मजा आया। सूखी गेंद के साथ गेंदबाजी करना अच्छा होता है। कुछ गेंदें घूम रही थी और कुछ सीधी रही। मैं अश्विन के साथ लम्बे समय से खेलता आ रहा हूं और वह सफेद गेंद के साथ अच्छी गेंदबाजी कर रहे हैं। विराट एक अच्छे कप्तान रहे हैं। वह हमेशा आक्रामक खेल खेलते हैं। रवि भाई, भरत भाई और श्रीधर भाई ने बहुत मेहनत की है। भविष्य में जो भी आएगा, हम उसके साथ यह लय बरकरार रखेंगे। 

.
.
.
.
.