Sports

कोलकाता : कोविड-19 महामारी के कारण तोक्यो ओलंपिक सहित कई दूसरे टूर्नामेंटों के निलंबित होने के बाद दिग्गज भारतीय टेनिस खिलाड़ी लिएंडर पेस को लग रहा है कि लगातार आठवें ओलंपिक में खेलने का उनका सपना साकार नहीं होगा। बुधवार को अपना 47वें जन्मदिन मनाने वाले पेस ने पहले कहा था कि 2020 सत्र और ओलंपिक उनका आखिरी टूर्नामेंट होगा लेकिन कोरोना वायरस महामारी ने उनकी पूर्व नियोजित योजना पर पानी फेर दिया। 

वन लास्ट रोर की कर रहा था तैयारी

लिएंडर पेस ने किया खुलासा- अगले साल ...

पेस ने ‘भारतीय चैंबर ऑफ कॉमर्स - यंग लीडर्स फोरम’ द्वारा आयोजित एक वेबिनार के दौरान कहा- मैं वास्तव में ओलंपिक के बारे में चिंतित हूं क्योंकि यह मेरे इतिहास, मेरी विरासत के लिए प्रासंगिक है। उन्होंने कहा-  मैं ‘वन लास्ट रोर (आखिरी)’ सत्र में था, जिसका समापन तोक्यो ओलंपिक के साथ होना था। लेकिन ओलंपिक को 2021 के लिए निलंबित कर दिया है और विश्व अर्थव्यवस्था भी नीचे की तरफ जा रही है। ऐसे में ओलंपिक के लिए कॉरपोरेट प्रायोजक कैसे आएंगें।

वैक्सीन के बिना ओलंपिक होना मुश्किल

पेस-राजा की जोड़ी नोक्सविले के ...

पेस ने कहा- कोविड-19 से निपटने के लिए टीके (वैक्सीन) के बिना ओलंपिक का 2021 में भी आयोजन मुश्किल होगा। डेविस कप में 44 जीत का रिकार्ड बनाने वाले पेस ने कहा- जापानी खेल प्रशासन ऐसे में ओलंपिक का संचालन कैसे कर पाएगा, खासकर अगर यह बिना दर्शकों के हुआ तो? उन्होंने सवाल उठाते हुए पूछा- अगर स्टेडियम खाली रहा तो राजस्व कहां से आयेगा। यह एक ऐसा मुद्दा है जिसका हम सामना करेंगे। 

लॉकडाउन खत्म होने पर करेंगे वापसी

भारत के लिए खेलना हो तो स्थान और ...

पेस बोले- खेल इतना बड़ा व्यवसाय है, यहां ऐसे भी एथलीट है जो सैकड़ों मिलियन डॉलर की कमाई करते हैं। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन खत्म होने के बाद वह फिर से पेशेवर सर्किट में वापसी करेंगे। उन्होंने कहा- जब लॉकडाउन खुलेगा तब मैं वापसी करूंगा। मैं उस 30 वर्षीय एथलीट की तरह लिएंडर का नया संस्करण रहूंगा।

.
.
.
.
.