T20-world-cup-2021
Sports

नई दिल्ली : अनुभवी भारतीय गोलकीपर पी आर श्रीजेश पेरिस ओलंपिक में प्रतिस्पर्धा करना चाहते हैं लेकिन शनिवार को उन्होंने कहा कि काफी कुछ उनकी फिटनेस और 2024 खेलों तक उनके प्रदर्शन पर निर्भर करेगा। केरल के 33 साल के खिलाड़ी को तोक्यो ओलंपिक में भारत के ऐतिहासिक कांस्य पदक की उपलब्धि में उनके प्रदर्शन के लिये हाल में एफआईएच सालाना पुरस्कारों में पुरूष वर्ग में सर्वश्रेष्ठ गोलकीपर चुना गया। यह पूछने पर कि क्या वह पेरिस ओलंपिक में खेलेंगे तो श्रीजेश ने कहा कि कोई भी खिलाड़ी ओलंपिक खेलने को लेकर कभी मना नहीं करेगा, हम लालची लोग हैं। हमेशा कड़ी मेहनत और अपना सर्वश्रेष्ठ देने की प्रेरणा बनी रहेगी।

उन्होंने कहा कि मेरा करियर 21 वर्षों का हो जाएगा। इसलिए मैं हमेशा एक और मैच खेलना चाहूंगा, एक और ओलंपिक खेलना चाहूंगा जब तक मेरी टीम के साथी मुझे बाहर नहीं करते, यह निश्चित है कि मैं टीम में रहूंगा। लेकिन एक खिलाड़ी की जिंदगी में कुछ भी निश्चित नहीं है। चोट भी लग सकती है, प्रदर्शन भी गिर सकता है, अन्य मुझसे बेहतर कर सकते हैं। श्रीजेश के पूर्व साथी रूपिंदर पाल सिंह, बीरेंद्र लाकड़ा और एसवी सुनील ने हाल में सफल ओलंपिक अभियान के बाद संन्यास लिया ताकि युवाओं को मौका मिल सके।

जब भारतीय कप्तान मनप्रीत सिंह से यही सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि वह हमारी टीम की ओर से पेरिस जाएगा। श्रीजेश सर्वश्रेष्ठ गोलकीपर है इसलिए हम उसे देखना चाहेंगे। हमें उस पर पूरा भरोसा है और बाकी उसकी फिटनेस और अन्य चीजों पर निर्भर करता है। 
 

.
.
.
.
.