Sports

नई दिल्ली : पुरुष हाकी टीम के मुख्य कोच ग्राहम रीड ने कहा है कि भारतीय हाकी के लिए अगले तीन से चार महीने काफी महत्वपूर्ण होंगे और नवंबर में तोक्यो ओलंपिक क्वालीफायर के अंतिम दौर से पहले प्रदर्शन में सुधार के लिए सामूहिक प्रयास की जरूरत है। हाकी इंडिया ने बेंगलुरू के भारतीय खेल प्राधिकरण केंद्र में शुरू हो रहे राष्ट्रीय कोचिंग शिविर के लिए रविवार को 34 संभावित कोर खिलाडिय़ों की घोषणा की जिसके बाद रीड ने यह बयान दिया।

 

रीड ने कहा- हम एफआईएच पुरुष सीरीज फाइनल में अपने पिछले प्रदर्शन की समीक्षा करेंगे और आपस में कमजोरियों पर चर्चा करेंगे और देखेंगे कि नवंबर में हेने वाले ओलंपिक क्वालीफिकेशन से पहले कैसे सामूहिक रूप से प्रदर्शन में सुधार हो सकता है। उन्होंने कहा- अगले तीन से चार महीने महत्वपूर्ण होंगे और हम जो भी करेंगे उसका लक्ष्य खेल के सभी पहलुओं में सुधार करने पर रहेगा।

कोच ने सभी खिलाडिय़ों को चेताया कि वे टीम में अपनी जगह तय नहीं मानें और उन्होंने छह हफ्ते के राष्ट्रीय शिविर के दौरान उनसे 100 प्रतिशत प्रतिबद्धता की उम्मीद जताई। यह शिविर रीड में मार्गदर्शन में 11 अगस्त तक चलेगा। शिविर के बाद भारतीय टीम 17 अगस्त से शुरू हो रहे 2020 तोक्यो ओलंपिक परीक्षण प्रतियोगिता के लिए जापान जाएगी। इस टूर्नामेंट में भारत के अलावा मेजबान जापान, मलेशिया और न्यूजीलैंड हिस्सा लेगा। 

संभावित खिलाड़ी इस प्रकार हैं-

गोलकीपर : पीआर श्रीजेश, सूरज करकेरा, कृष्ण बहादुर पाठक।

डिफेंडर : हरमनप्रीत सिंह, बीरेंद्र लकड़ा, सुरेंद्र कुमार, अमित रोहिदास, वरुण कुमार, रूपिंदर पाल सिंह, गुरिंदर सिंह, कोथाजीत सिंह खदंगबाम, नीलम संदीप सेस, जरमनप्रीत सिंह।

मिडफील्डर्स : मनप्रीत सिंह, सुमित, नीलकांत शर्मा, जसकरन सिंह, हार्दिक सिंह, विवेक सागर प्रसाद, आशीष कुमार टोपनो, यशदीप सिवाच, सैयद नियाज रहीम और राज कुमार पाल।

फारवर्ड : मनदीप सिंह, आकाशदीप सिंह, शिलानंद लकड़ा, गुरसाहिबजीत सिंह, शमशेर सिंह, अरमान कुरैशी, सुमित कुमार, सिमरनजीत सिंह, एस वी सुनील, गुरजंत सिंह और रमनदीप सिंह।

.
.
.
.
.