Sports

नई दिल्ली : एफआईएम विश्व चैम्पियनशिप ग्रां प्री (मोटो जीपी) का आयोजन करने वाली स्पेन की डोरना स्पोट्र्स ने खेल गतिविधि क्षेत्र में कार्य करने वाली भारतीय कंपनी फेयरस्ट्रीट स्पोट्र्स के साथ मिलकर बुधवार को देश में पहली बार मोटो जीपी ग्रां प्री के आयोजन की घोषणा की। आयोजकों ने बताया कि देश की पहली मोटो जीपी प्रतियोगिता ‘ग्रां प्री ऑफ भारत’ का आयोजन नोएडा, उत्तर प्रदेश के बुद्ध इंटरनेशनल सर्किट में 2023 में होगा। विज्ञप्ति में कहा गया कि आयोजन में 19 देशों के रेसर भाग लेंगे।

उत्तर प्रदेश में होने वाली रेस को लेकर राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि यह राज्य के लिए गर्व की बात है कि वह वैश्विक स्तर के खेल आयोजन की मेजबानी करने जा रहा है। इससे न केवल पर्यटन क्षेत्र में वृद्धि होगी बल्कि यह उत्तर प्रदेश को वैश्विक मंच पर लाकर खड़ा कर देगा। इस आयोजन को कामयाब बनाने के लिए हमारी सरकार हर तरह की आवश्यक मदद करेगी।

 

दोनों कंपनियों के बीच सात वर्षों के लिए हुए इस समझौते के जरिए डोरना का उद्देश्य है कि वह अन्य राज्यों की सरकारों के साथ कार्य करते हुए देश में मोटरसाइकिल वातावरण को प्रोत्साहित करें और अंतरराष्ट्रीय स्तर के भारतीय मोटर जीपी राइडरों को बढ़ावा दे।

डोरना स्पोट्र्स के प्रबंधन निदेशक कार्लोस एजपेलेटा ने कहा कि मोटो जीपी लगातार नए दर्शक जोड़ रही है। हमारी योजना में भारत प्रमुख है जो इसे नई सीमाएं देगा। हम देश में ग्रां प्री ऑफ भारत के साथ दर्शकों के एक बड़े समूह को खेल की ओर आकर्षित करने का प्रयास कर रहे हैं। 

 

फेयरस्ट्रीट स्पोट्र्स के मुख्य परिचालन अधिकारी (सीओओ) पुष्कर नाथ ने कहा कि देश में मोटरसाइकिलिंग को एक खेल के रूप में बड़े स्तर पर प्रशंसित किया जाता है। दुनिया के मशहूर मोटरसाइकिल रेस के आयोजन को यहां लाने पर हमें उम्मीद है कि इसे पसंद करने वालों की संख्या के बढऩे के साथ ही युवा मोटरसाइकिल चालकों को इसे बतौर खेल चुनने में प्रोत्साहन मिलेगा। उल्लेखनीय है कि मोटोजीपी भारत के रेसिंग परिद्दश्य में मोटो-ई को भी पेश करने पर विचार कर रहा है। मोटो-ई मोटरसाइकिल रेसिंग का वह प्रारूप है जिसमें विद्युत-चालित मोटरसाइकिलों का प्रयोग किया जाता है।

.
.
.
.
.