Sports

स्पोर्ट्स डेस्क: भारतीय टीम के पूर्व वनडे कप्तान मिताली राज का कहना है कि 2018 टी20 विश्व कप में मुझे सेमीफाइनल मैच में टीम से बाहर करना काफी निराशाजनक था। टीम ने मेरे ऊपर विश्वास नहीं दिखाया। राज ने कहा उस समय मैं काफी निराश हुई थी। बता दें, 2018 टी20 वर्ल्ड के दौरान मिताली काफी खबरों में रही थी।

PunjabKesari
दरअसल, मिताली राज ने एक क्रिकेट वेबसाइट से बातचीत के दौरान कहा, 'ईमानदारी से कहूं तो मैं बहुत ही ज्यादा निराश थी कि खेल नहीं पाई लेकिन यह एक ऐसी चीज है जो हर एक खिलाड़ी के साथ होती है। मैं कोई पहली खिलाड़ी नहीं थी जिसके साथ यह हुआ था। यह टीम संयोजन की बात होती है और शायद कप्तान और कोच को ऐसा महसूस हुआ कि उनके पास बेहतर खिलाड़ी हैं जिसे प्लेइंग इलेवन में रखा जा सकता है।'

PunjabKesari
मिताली ने कहा, 'मुझे हमेशा यह उम्मीद थी कि अगर वो मैच हम जीत जाते तो शायद मेरे पास फाइनल खेलने का मौका होता और मैं टीम के लिए योगदान दे पाउं और हमारे पास विश्व कप जीतने का अच्छा मौका था। मेरा इरादा यही थी जब भी मैं खिलाड़ियों के घेरे में जाती थी तो उनको उत्साहित करती कि अपना सर्वश्रेष्ठ दीजिए क्योंकि शायद ऐसा मौका दोबारा ना मिल पाए।'

.
.
.
.
.