Sports

पणजी/नई दिल्ली : गोवा पुलिस ने गुरूवार को एक तैराकी कोच सुरजीत गांगुली के खिलाफ पॉक्सो कानून की धाराओं के तहत बलात्कार एवं धमकाने के आरोप में एक मामला दर्ज किया। गोवा तैराकी संघ (जीएसए) में कार्यरत सुरजीत गांगुली पर 15 साल की लड़की ने छेड़छाड़ का आरोप लगाया जो उनके मार्गदर्शन में ट्रेनिंग कर रही थी। सोशल मीडिया पर इसका वीडियो वायरल हो गया था और खेल मंत्री किरेन रीजीजू ने इस मामले में कठोर कदम उठाने का वादा किया। 

जीएसए ने गुरूवार को कोच को बर्खास्त कर दिया था। गोवा के मापुसा पुलिस थाने के इंस्पेक्टर कपिल नायक ने बताया कि गांगुली के खिलाफ भादंवि की धारा 376 (बलात्कार), 354 (छेड़छाड़) और 506 (आपराधिक भयादोहन) तथा यौन अपराधों से बच्चों की सुरक्षा कानून (पोक्सो) की धाराओं एवं गोवा बाल अधिनियम की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है। गांगुली का अब तक पता नहीं चल पाया है। 

गौर हो कि खेल मंत्री ने लगातार ट्वीट कर गांगुली के खिलाफ कड़ी कार्रवाई का आश्वासन देते हुए कहा था कि गोवा तैराकी संघ ने कोच सुरजीत गांगुली का अनुबंध समाप्त कर दिया है। मैं भारतीय तैराकी महासंघ से यह सुनिश्चित करने के लिए कह रहा हूं कि इस कोच को भारत में कहीं भी नहीं रखा जाए। यह सभी महासंघों और प्रतिस्पर्धाओं पर लागू होता है।' उन्होंने कहा, ‘भारतीय खेल प्राधिकरण के जरिए इस मामले में कठोर कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने पुलिस से भी इस कोच के खिलाफ कठोर दंडात्मक कार्रवाई करने का आग्रह किया था। गांगुली को जीएसए ने ढाई साल पहले कोच नियुक्त किया था। लड़की और कोच दोनों बंगाल से ही हैं।

.
.
.
.
.