Sports

मेलबर्न : ऑस्ट्रेलियाई बिग हिटर खिलाड़ी ग्लेन मैक्सवेल इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) को छोटे स्तर का विश्व कप मानते हैं जिसमें विदेशी खिलाड़ियों को एक दूसरे के खिलाफ प्रतिस्पर्धा करने के लिए काफी चुनौतियां मिलती हैं। टी20 विश्व कप के स्थगित होने से बीसीसीआई के लिए सितंबर-नवंबर की विंडो में आईपीएल आयोजित करने का रास्ता साफ हो गया है। बीसीसीआई ने केंद्र सरकार से लीग को संयुक्त अरब अमीरात में कराने की अनुमति मांगी है, जहां क्रिकेट खेलने वाले अन्य देशों की तुलना में अभी तक कोविड-19 के कम मामले सामने आए हैं।

मैक्सवेल ने ‘फॉक्स स्पोर्ट्स' से कहा, ‘आपको आईपीएल पर इंतजार करना होगा, अन्य लोगों के फैसले का इंतजार करना होगा कि यात्रा और पृथकवास समय और अन्य चीजों के बारे में आप क्या कर सकते हो और क्या नहीं। अगर सबकुछ सही रहता है तो मुझे इसके लिए नहीं जाने का कोई कारण नहीं दिखता है।' उन्होंने कहा, ‘विदेशी खिलाड़ियों को इसमें खेलकर काफी रोमांच मिलता है, इसमें विश्व कप की तरह दुनिया के कुछ सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी कंधे से कंधा मिलाकर खेलते हैं, लेकिन छोटे स्तर पर। अगर सब सही हुआ तो मैं इसके लिए उपलब्ध रहना पसंद करूंगा।'

यह आलराउंडर इंग्लैंड दौरे के लिए ऑस्ट्रेलिया की 26 सदस्यीय टीम का हिस्सा है। इस 31 वर्षीय खिलाड़ी ने पिछले साल मानसिक स्वास्थ्य संबंधित कुछ समस्याओं के कारण ब्रेक लिया था। मैक्सवेल ने कहा कि वह हालांकि राष्ट्रीय कोच जस्टिन लैंगर के संपर्क में रहे। उन्होंने कहा, ‘साल के इस समय घर पर रहना थोड़ा लग्जरी की तरह था। मैंने समय का लुत्फ उठाया, दिमागी और शारीरिक रूप से तरोताजा हुआ।' 

.
.
.
.
.