Sports

 

मैनचेस्टर : विराट कोहली भले ही एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की बल्लेबाजी रैंकिंग में शीर्ष पर काबिज हों लेकिन भारतीय कप्तान ने सोमवार को यहां कहा कि विश्व कप में अब तक पांच शतक ठोककर नया रिकार्ड बनाने वाले रोहित शर्मा वर्तमान समय में इस प्रारूप में सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज हैं। कोहली ने न्यूजीलैंड के खिलाफ मंगलवार को होने वाले विश्व कप सेमीफाइनल की पूर्व संध्या पर पत्रकारों से कहा, ‘मुझे उम्मीद है कि वह (रोहित) दो और शतक लगाएगा और इस तरह से हम मैच जीत सकते हैं क्योंकि यह बेजोड़ उपलब्धि हो। वह हर तरह के श्रेय का हकदार है और मेरे अनुसार अभी वह दुनिया में वनडे का सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी है।'

रोहित ने अभी तक आठ मैचों में 647 रन बनाए हैं और कोहली को खुशी है कि यह सलामी बल्लेबाज अभी लोगों की निगाहों पर है। उन्होंने कहा, ‘इस विश्व कप में मुझे अलग तरह की भूमिका निभानी पड़ रही है। टीम का कप्तान होने के नाते मैं टीम के जरूरत के अनुसार कोई भी भूमिका निभाने के लिये तैयार हूं।' कोहली ने कहा, ‘यह अच्छा है कि रोहित निरंतर अच्छा प्रदर्शन कर रहा है जिसका मतलब है कि पारी के बाद में बल्लेबाजी के लिए उतरने पर आपको अलग तरह की भूमिका निभानी होती है। जो कि पारी पर नियंत्रण रखने से जुड़ा है ताकि हार्दिक (पंड्या), केदार (जाधव) एमएस (धोनी) और ऋषभ (पंत) अपना नैसर्गिक खेल खेल सकें।'

कोहली तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी के लिए आते हैं लेकिन श्रीलंका के खिलाफ रोहित और केएल राहुल के बीच पहले विकेट के लिए बड़ी साझेदारी के कारण उन्हें बाद में बल्लेबाजी का मौका मिला और वह 34 रन बनाकर नाबाद रहे। उन्होंने कहा, ‘मैं एक छोर पर टिके रहकर दूसरे बल्लेबाजों को खुलकर खेलने की अनुमति देकर खुश हूं। मैं जानता हूं कि पारी के आखिर में मैं तेजी से रन बना सकता हूं।' कोहली ने स्वीकार किया कि टीम से काफी अपेक्षाएं हैं लेकिन खिलाड़ी इस तरह की परिस्थितियों में खेलने के आदी हो गए हैं। उन्होंने कहा, ‘भारतीय टीम जब भी खेलती है तब उस पर काफी दबाव होता है। हम इसके आदी है। हम इस तरह की परिस्थितियों में खेलने के लिये अच्छी तरह से तैयार हैं क्योंकि हम इस तरह के मैचों, अपने प्रशंसकों और अपेक्षाओं को समझते हैं। हमारा लक्ष्य जीत दर्ज करना है।'

कोहली से पूछा गया कि क्या महेंद्र सिंह धोनी विश्व कप के बाद संन्यास ले सकते हैं, उन्होंने कहा, ‘मैं निश्चित तौर पर कुछ भी बोलने वाला नहीं हूं। मैं पक्के तौर पर कह सकता हूं कि अगर आप विशेषकर उनकी कप्तानी में करियर की शुरुआत करने वाले खिलाड़ियों से पूछो तो उनके पास कई खास बाते होंगी। भारतीय कप्तान ने कहा, ‘उन्होंने भारतीय क्रिकेट के लिए बहुत कुछ किया है और हमें उसकी सराहना करनी होगी। उन्होंने जिस तरह से भारतीय क्रिकेट को संभाला और दुनिया भर में भारतीय क्रिकेट को सम्मान दिलाया।' ओल्ड ट्रैफर्ड में विश्व कप के अब तक जो पांच मैच खेले गये हैं उनमें पहले बल्लेबाजी करने वाली टीम विजयी रही है लेकिन कोहली टास को लेकर चिंतित नहीं हैं। कोहली ने कहा, ‘ईमानदारी से कहूं तो मुझे लगता है कि यह आंकड़ा दबाव से जुड़ा है। पिच से इसका कोई लेना देना नहीं है।' 

.
.
.
.
.