Sports

किंगस्टन: भारतीय कप्तान विराट कोहली ने वेस्टइंडीज के खिलाफ दूसरे और अंतिम क्रिकेट टेस्ट में 257 रन की जीत के बाद स्वीकार किया कि कुछ सत्र में भारतीय टीम दबाव में थी लेकिन अच्छा क्रिकेट खेलकर आसान जीत दर्ज करने में सफल रही। भारत के 468 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए वेस्टइंडीज की टीम 210 रन पर ढेर हो गई। भारत की ओर से रविंद्र जडेजा और मोहम्मद शमी ने तीन-तीन जबकि इशांत शर्मा ने दो विकेट हासिल किए। जसप्रीत बुमराह को एक विकेट मिला।

टीम के सभी खिलाड़ियों का लाजवाब प्रदर्शन 
PunjabKesari
कोहली ने श्रृंखला में 2-0 से क्लीनस्वीप करने के बाद कहा, ‘एक बार फिर आसान जीत। हमने अच्छा क्रिकेट खेला और उस तरह के नतीजे हासिल किए जो एक टीम के रूप में महत्वपूर्ण हैं। कुछ सत्र में हम दबाव में थे। बल्लेबाजी करते हुए कुछ समय मुश्किल स्थिति में थे लेकिन लड़कों ने शानदार प्रदर्शन किया।' उन्होंने कहा, ‘हनुमा ने शानदार बल्लेबाजी की, अजिंक्य दूसरी पारी में अच्छा खेला, मयंक पहली पारी में अच्छा खेला, इशांत का अर्धशतक- यह जज्बे से भरी पारी थी। सतह को देखते हुए विहारी की पारी विश्व स्तरीय थी।' 

टीम के अच्छे प्रदर्शन के कारण टेस्ट में सफल कप्तान बना 
PunjabKesari
पहली पारी में 111 और दूसरी पारी में नाबाद 53 रन बनाने वाले हनुमा विहारी की तरीफ करते हुए कोहली ने कहा, ‘वह आत्मविश्वास से भरा नजर आता है और जब वह बल्लेबाजी कर रहा होता है तो ड्रेसिंग रूप में धैर्य दिखता है। वह हमेशा अपने खेल और गलतियों में सुधार के लिए तैयार रहता है।'

PunjabKesari
भारत का सबसे सफल टेस्ट कप्तान बनने पर कोहली ने कहा, ‘सबसे सफल टेस्ट कप्तान बनना हमारी टीम के कारण है। हमारे गेंदबाज शानदार हैं। शमी बेहतरीन है, इशांत जज्बे के साथ गेंदबाजी करता है, जडेजा लंबे स्पैल फेंक रहा है। कप्तान सिर्फ आपके नाम के आगे ‘सी' अक्षर है। यह सामूहिक प्रयास है।' 

 

.
.
.
.
.