Sports

नई दिल्ली : दुबई के मैदान पर किंग्स इलेवन पंजाब और मुंबई इंडियंस के बीच रोमांचक मुकाबला खेला गया। मुंबई ने पहले खेलते हुए 176 रन बनाए थे जवाब में पंजाब ने भी 176 रन बनाकर मैच टाई करवा लिया। मैच सुपर ओवर में पहुंचा तो पंजाब की टीम पहले बल्लेबाजी करते हुए पांच ही रन बना पाई। जवाब में खेलने उतरी मुंबई भी पांच ही रन बना पाई। मैच फिर टाई हो गया। अब नियमों के मुताबिक दूसरा सुपर ओवर होना था। इसमें मुंबई के कैरोन पोलार्ड को बल्लेबाजी करता देख सोशल मीडिया पर सुपर ओवर को लेकर बने नियम पर बहस शुरू हो गई। 

दरअसल, क्रिकेट रूल बुक के हिसाब से अगर सुपर ओवर टाई हो जाए। और अगला सुपर आए तो दोनों टीमों के वह छह क्रिकेटर जोकि बल्लेबाजी के लिए मैदान पर उतर जाते हैं, वह अगले सुपर ओवर में बल्लेबाजी नहीं कर सकते थे। उनकी जगह नए बल्लेबाज ही आएंगे। जबकि बॉलिंग डिपार्टमेंट में इसका कोई असर नहीं होता।

इसलिए पोलार्ड आए दोबारा सुपर ओवर खेलने
सो, जब नियम खंगाले गए तो पता चला कि पोलार्ड दूसरे सुपर ओवर में इसलिए बल्लेबाजी के लिए उतरे क्योंकि वह पहले सुपर ओवर में बल्लेबाजी के लिए मैदान पर ही नहीं आए थे। नियम यह है कि जो क्रिकेटर खेल चुका है वह आगे नहीं खेल सकता। क्योंकि रोहित और डिकॉक आऊट नहीं हुए थे इसलिए पोलार्ड को दूसरे सुपर ओवर में खेलने का मौका मिल गया।

.
.
.
.
.