Sports

मुंबईः पूर्व टेस्ट तेज गेंदबाज करसन घावरी ने एडीलेड में मैन आफ द मैच बने पुजारा के योगदान पर घावरी ने कहा, ‘‘राहुल द्रविड़ के बाद चेतेश्वर पुजारा (भारतीय क्रिकेट की) दीवार है। वह चीन की दीवार की तरह भारत की दीवार है। भारतीय टेस्ट क्रिकेट में चेतेश्वर पुजारा भारत की दीवार है।’’

पुजारा की तरह ही सौराष्ट्र के रहने वाले घावरी ने कहा, ‘‘टेस्ट क्रिकेट में उसके (पुजारा के) विकेट की काफी अहमियत है। जैसे कि जब राहुल द्रविड़ खेला करता था तो उसके विकेट की काफी अहमियत होती थी (विरोधी टीम के लिए)। आज भारतीय क्रिकेट उस पर निर्भर हो सकता है और जब तब वह अच्छा प्रदर्शन कर रहा है तब यह भारतीय क्रिकेट के लिए शानदार है।’’

घावरी को चार टेस्ट की श्रृंखला के बाकी मैचों में आस्ट्रेलिया के वापसी करने की उम्मीद है जिसे एडीलेड में पहले टेस्ट में हार का सामना करना पड़ा था। घावरी ने हालांकि भरोसा जताया कि विराट कोहली की अगुआई वाली भारतीय टीम डटी रहेगी। घावरी ने चेतेश्वर पुजारा की भी तारीफ की जिन्होंने पहले टेस्ट की पहली पारी में मुश्किल हालात में बल्लेबाजी करते हुए शतक जड़ा और फिर दूसरी पारी में भी अर्धशतक जड़कर मेहमान टीम की स्थिति मजबूत की।

करसन घावरी
karsan ghavri image

बाएं हाथ के इस पूर्व तेज गेंदबाज ने कहा, ‘‘फिलहाल हम आस्ट्रेलिया में 1-0 से आगे हैं और तीन और टेस्ट बाकी हैं। लेकिन आस्ट्रेलियाई टीम अगर बड़ी वापसी करती है तो मुझे हैरानी नहीं होगी। वे (आस्ट्रेलिया) वापसी करेंगे। लेकिन आपको बता दूं कि हमारा (भारत का) पलड़ा भारी रहेगा। हमारे पास बेहतरीन टीम होने का फायदा है।’’ आस्ट्रेलिया में पहली बार टेस्ट श्रृंखला जीतने की उम्मीदों के साथ गई भारतीय टीम ने एडीलेड में पहले टेस्ट में 31 रन की जीत के साथ अपने अभियान की शानदार शुरुआत की। यह 2008 से आस्ट्रेलिया में भारत की पहली टेस्ट जीत है।

अपने करियर के शुरुआत सौराष्ट्र का साथ छोड़कर मुंबई से जुडऩे वाले घावरी ने कहा, ‘‘निजी तौर पर मुझे लगता है कि हमने आस्ट्रेलिया के एडीलेड में यह टेस्ट पुजारा, उसके शानदार प्रदर्शन की वजह से जीता। उसने भारतीय गेंदबाजों को बचाव करने के लिए रन दिए। उसका योगदान बड़ा है।’’ भारत की ओर से 39 टेस्ट खेलने वाले घावरी ने कहा कि आस्ट्रेलियाई टीम को स्टीव स्मिथ और डेविड वार्नर की कमी खल रही है जिन्हें गेंद से छेड़छाड़ प्रकरण में भूमिका के लिए प्रतिबंधित किया गया हैं। इस पूर्व तेज गेंदबाज ने कहा, ‘‘मुझे यकीन है कि उन्हें स्टीव स्मिथ और डेविड वार्नर की कमी खल रही है क्योंकि पिछले कुछ वर्षों में वे आस्ट्रेलिया के रन बनाने वाले मुख्य बल्लेबाज रहे हैं।’’
 

.
.
.
.
.