Sports

स्पोर्ट्स डेस्क : ऑस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड को 5 मैचों की एशेज सीरीज में 4-0 से हरा दिया है। होबार्ट के मैदान में खेले जा रहे आखिरी टेस्ट मैच में ऑस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड को तीसरे दिन ही 146 रन से मात दी। सीरीज हारने के बाद कप्तानी पर उठ रहे सवालों पर रूट ने कहा कि वह टेस्ट फॉर्मेट में इंग्लैंड की कप्तानी करने के लिए सबसे सही व्यक्ति हैं।

रूट ने कप्तानी को लेकर कहा कि मैं इस टीम को आगे ले जाने और चीजों को बदलने का अवसर पसंद करूंगा। इस समय हम बतौर खिलाड़ी के रूप में एक कठिन दौर से गुजर रहे हैं और हमारा प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा है। लेकिन मुझे कोशिश करने और चीजों को बदलना अच्छा लगता है। आप इंग्लैंड की टीम से जो प्रदर्शन की उम्मीद करते हैं वह हम जरूर करके दिखाएंगे।

रूट ने कहा कि मेरा मानना है कि मैं अपनी नज़र में इस टीम को आगे ले जाने के लिए सही व्यक्ति हूं। अगर यह फैसला मेरे हाथ से निकल जाता है तो कोई बात नहीं। पर मुझे अपनी टीम को आगे ले जाने का अवसर मिले तो मुझे मजा आएगा और हां, मुझ में आगे बढ़ने और चीजों को मोड़ने की भूख है। लेकिन हम देखेंगे कि चीजें कैसे सामने आती हैं। 


 
आखिरी मैच में इंग्लैंड की टीम ने को सलामी बल्लेबाजों ने 68 रन की अर्धशतकीय साझेदारी की। इसके बाद इंग्लैंड की टीम ने 56 रन के अंदर ही सभी 10 विकेट गंवा दिए। इस पर रूट ने कहा कि बल्लेबाजों ने वाकई खराब प्रदर्शन किया। हमें लगा कि हमारे पास इस टेस्ट मैच को जीतने का अच्छा मौका है। पर अच्छी शुरूआत के बाद बल्लेबाजों ने जिस तरह से ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों के आगे सरेंडर किया वह बेहद ही निराशाजनक है। 

.
.
.
.
.