Sports

कराची : मैदान पर उनकी खट्टी मीठी नोकझोक भारत-पाक क्रिकेट किवदंतियों का हिस्सा रही है लेकिन जब सम्मान की बात आती है तो जावेद मियांदाद की नजर में तेज गेंदबाजों का सामना करने की तकनीक और तेवर के मामले में सुनील गावस्कर का कोई सानी नहीं है। मियांदाद का मानना है कि मौजूदा खिलाड़ियों को गावस्कर के वीडियो देखने चाहिए कि कैसे उन्होंने माइकल होल्डिंग, एंडी रॉबटर्स, मैल्कम मार्शल, इमरान खान, रिचर्ड हैडली और डेनिस लिली जैसे दुनिया के सबसे खतरनाक तेज गेंदबाजों का सामना किया। 

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड द्वारा जारी एक वीडियो में उन्होंने कहा कि यह अद्भुत था कि इतना कम कद होने के बावजूद वह दुनिया भर में क्या खूब खेले। उनके प्रदर्शन में निरंतरता कमाल की थी। आज के खिलाड़ी उनके वीडियो देखकर बहुत कुछ सीख सकते हैं। उन्होंने छोटे कद के बावजूद तेज गेंदबाजों का सामना कैसे किया। उस समय वेस्टइंडीज, इंग्लैंड, आस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड और पाकिस्तान में काफी खतरनाक तेज गेंदबाज थे लेकिन वह सबके सामने कामयाब रहे।

गावस्कर के साथ अपने संबंधों के बारे में उन्होंने कहा कि मुझे उनकी बल्लेबाजी देखने में मजा आता था। मैं उनके करीब फील्डिंग करता था और बोलता रहता था ताकि उनकी एकाग्रता टूटे। कई बार उनका फोकस तोड़ने में कामयाब रहा। वह मैदान से मुझे गालियां देते हुए निकलते और मुझे बड़ा मजा आता। 

.
.
.
.
.