Sports

स्पोर्ट्स डेस्क : भारतीय महिला फुटबॉल टीम की मुख्य कोच मेमोल रॉकी ने अपनी खिलाड़ियों से 2019 फीफा विश्व कप गोल्डन बॉल और गोल्डन बूट पुरस्कार विजेता मेगन रेपिनो की तरह खेल के प्रति ‘दृष्टिकोण विकसित करने’ का सुझाव दिया। एआईएफएफ टीवी से बात करते हुए मेमोल ने कहा वह अमेरिका की रेपिनो से 2019 फीफा महिला विश्व के दौरान फ्रांस में मिली थी।

मेमोल ने कहा- मेगन के साथ मेरी संक्षिप्त बातचीत हुई थी। उसका रवैया शानदार था। वह खेल में सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों में से एक है। लेकिन उसमें अहंकार बिल्कुल नहीं है। वह आज जिस मुकाम पर है उसे पाने के लिए उसने पूरी जी-जान लगा दी है। भारतीय कोच ने कहा- मैं अपनी खिलाड़ियों से कहती हूं कि हमें भी उसी तरह का रवैया अपनाना चाहिए। वह किसी भी युवा फुटबॉलर के लिए एक आदर्श प्रेरणास्रोत है।

मेमोल ने उनसे मुलाकात और विश्व कप की यादों को साझा करते हुए कहा- मैं फीफा कार्यक्रम के तहत अपने गुरू के साथ वहां गयी थी। मैचों को देखते समय मैं सिर्फ यह सोचती थी कि अगर मैदान पर हमारी टीम होती तो कैसा लगता। यह अविस्मरणीय होता। यह अगले साल अंडर -17 विश्व कप में भी टीम की खिलाड़ियों के लिए ऐसा ही होगा। मैं उनका हौसला बढ़ाने के लिए निश्चित रूप से वहां मौजूद रहूंगी।

.
.
.
.
.