Sports

हिरोशिमा : भारतीय महिला हॉकी टीम ने एफआईएच महिला सीरीज फाइनल्स के सेमीफाइनल में चिली को 4-2 से हराकर इस साल के आखिर में होने वाले ओलंपिक क्वालिफायर टूर्नामेंट का टिकट हासिल कर लिया। भारतीय टीम ने इस शानदार जीत और ओलंपिक क्वालिफायर का टिकट हासिल कर अपनी टीम की युवा फॉरवर्ड लालरेमसियामी के पिता को भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की जिनका सुबह निधन हो गया था।

भारतीय कप्तान रानी ने कल कहा था कि पूरी टीम इस दुख की घड़ी में लालरेमसियामी के साथ खड़ी है और वह इस टूर्नामेंट को जीतकर उनके पिता को श्रद्धांजलि देगी। एफआईएच महिला सीरीज फाइनल्स के फाइनल में पहुंचने वाली दोनों टीमों को इस साल के आखिर में होने वाले ओलंपिक क्वालिफायर टूर्नामेंट का टिकट मिलना है और भारत ने यह टिकट हासिल कर लिया।

Indian Women hockey team Qualified for Olympics

जापान मेजबान होने के नाते ओलंंपिक में स्वत: ही खेलेगा। इससे पहले भारतीय पुरुष टीम ने भी भुवनेश्वर में एफआईएच सीरीज फाइनल्स का खिताब जीतकर ओलंपिक क्वालिफायर के लिए क्वालीफाई कर लिया था। भारत का अब फाइनल में एशियाई खेलों के स्वर्ण विजेता जापान के साथ मुकाबला होगा जिन्होंने एक अन्य सेमीफाइनल में रुस को पेनल्टी शूटआउट में 3-1 से हराया।

निर्धारित समय तक मुकाबला 1-1 से बराबर रहने के बाद जापान ने शूटआउट में जीत हासिल की। भारत के पास अब जापान के हाथों एशियाई खेलों के फाइनल में मिली हार का बदला चुकाने का पूरा मौका रहेगा। विश्व रैंकिंग में नौंवे नंबर की टीम भारत ने टूर्नामेंट के ग्रुप मैचों में उरुग्वे को 4-1 से, पोलैंड को 5-0 से फिजी को 10-0 से हराया था और अब सेमीफाइनल में चिली को 4-2 से शिकस्त दे दी।

Indian Women hockey team Qualified for Olympics

भारत की जीत में ड्रैग फ्लिकर गुरजीत कौर ने पेनल्टी कार्नर पर दो गोल दागे जबकि नवनीत और रानी ने एक-एक गोल किया। विश्व रैंकिंग में 16वें नंबर की टीम चिली की तरफ से केरोलिना गार्सिया और मैनुएला यूरोज ने एक-एक गोल किया। दोनों टीमों के बीच यह पांचवां मुकाबला था जिनमें से भारत ने चार जीते हैं और एक ड्रा रहा है।

मैच का पहला क्वाटर्र गोल रहित रहने के बाद गार्सिया ने मैदानी गोल कर चिली को बढ़त दिलाई। लेकिन गुरजीत ने 22वें मिनट में पेनल्टी कार्नर पर गोल कर भारत को 1-1 की बराबरी दिला दी। आधे समय तक दोनों टीमें एक-एक से बराबर थीं।

 

 

तीसरा क्वार्टर शुरू होते ही नवनीत ने 31वें मिनट में मैदानी गोलकर भारत को 2-1 से आगे किया। गुरजीत ने 37वें मिनट में पेनल्टी कार्नर पर गोलकर भारत की बढ़त को 3-1 कर दिया। मैनुएला ने 43वें मिनट में चिली का दूसरा गोलकर मैच में रोमांच पैदा कर दिया।

.
.
.
.
.