Sports

कैलिफोर्निया : राफेल नडाल को इंडियन वेल्स के फाइनल में टेलर फ्रिट्ज से सीधे सेटों में हार का सामना करना पड़ा। यह इस साल उनका 21वां मैच था। इस साल नडाल की यह पहली हार थी। 35 वर्षीय नडाल को इलाज के लिए कोर्ट से उस समय बाहर जाना पड़ा, जब वह 4-0 से पिछड़े हुए थे। कोर्ट पर वापसी के बाद नडाल अधिक सहज दिखे, लेकिन फ्रिट्ज ने फिर भी 6-3 7-6 (7-5) से जीत हासिल की। 

फ्रिट्ज 2001 में आंद्रे अगासी के बाद इंडियन वेल्स में जीतने वाले पहले अमरीकी बन गए। 24 वर्षीय फ़्रिट्ज ने जीत के बाद कहा, 'यह उन बचपन के सपनों में से एक है, जिसके बारे में मैंने कभी सोचा भी नहीं था कि यह सच होगा।' उन्होंने अपने दूसरे एटीपी टूर खिताब और पहली मास्टर्स 1000 जीत हासिल करने के लिए टाई-ब्रेक जीतने से दो ब्रेक पॉइंट बचाए। एंड्री रुबलेव के खिलाफ सेमीफाइनल कै दौरान फ्रिट्ज के टखने में चोट लगने के बाद उनकी फिटनेस को लेकर चिंता थी, लेकिन फाइनल में उनपर इसका कोई प्रभाव नहीं दिखा। 

फ्रिट्ज ने कहा, 'मैं आपके बता नहीं सकती कि खेलना कितना मुश्किल रहा, मैं आज कैसे खेल सका, मैंने कभी भी ऐसे दर्द का अनुभव नहीं किया जैसा मैच से पहले किया था।' मैं कड़ी मेहनत करने की कोशिश कर रहा था और हमने मैच तक काफी काम किया। इस साल की शुरुआत में ऑस्ट्रेलियन ओपन में जीत हासिल वाले स्पैनियाडर् नडाल ने 2022 में अपने पिछले 20 मैच जीते थे। लेकिन उन्होंने मैच में फ्रिट्ज की तुलना में अप्रत्याशित गलतियां कीं। 

नडाल ने कहा, 'मैंने पिछले दो हफ्तों के दौरान अपना सर्वश्रेष्ठ प्रयास किया, आज संभव नहीं था। मेरे विचार से अंत तक मैनें अच्छा मुकाबला किया।' 'मुझे यहां खेले काफी समय हो गया है, लेकिन मैं वापस आकर बहुत खुश हूं और वास्तव में इसका भरपूर आनंद ले रहा हूं।' 

.
.
.
.
.