Sports

वॉरसेस्टर : भारतीय दिव्यांग क्रिकेट टीम ने यहां हुए विश्व क्रिकेट सीरीज के फाइनल में मेजबान इंग्लैंड को 36 रनों से हराकर खिताब अपने नाम कर लिया। भारतीय टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए बल्लेबाज रवींद्र सांटे के 34 गेंदों में दो चौके और चार छक्कों की मदद से 53 रनों की धुआंधार पारी की बदौलत 20 ओवर में 180 रनों का मजबूत स्कोर बनाया। लक्ष्य का पीछा करने उतरी इंग्लैंड की टीम 144 रन पर ही सिमट गई। 

इससे पहले भारत के कप्तान विक्रांत कैनी ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला लिया लेकिन भारत के सलामी बल्लेबाज कुणाल फनासे और वसीम खान टीम को अच्छी शुरुआत नहीं दिला सके। खान पहली ओवर में ही बिना खाता खोले आउट हो गए। पहला विकेट गिरने के बाद कप्तान कैनी ने फनासे के साथ दूसरे विकेट के लिए 46 रन की साझेदारी की और भारतीय पारी को संभाला। फनासे ने 36 और सैनी ने 29 रन बनाए। इसके बाद सांटे ने सुगानेस महेंदारन के साथ मिलकर टीम की पारी को आगे बढ़ाया और टीम को मजबूत स्कोर तक ले गए। महेंदारन ने 33 रन बनाए।

इंग्लैंड की ओर से लियाम ओ ब्रायन ने चार ओवर में 35 रन देकर दो विकेट लिए। इंग्लैंड की पारी में सलामी बल्लेबाज अंगूस ब्रो ने सर्वाधिक 44 रन बनाए। उनके अलावा इंग्लैंड का कोई बल्लेबाज करिश्मा नहीं कर सका और मेजबान टीम को अपने घर में ही हार का सामना करना पड़ा। इससे पहले सेमीफाइनल में भारत ने पाकिस्तान को और इंग्लैंड ने अफगानिस्तान को हराकर फाइनल में प्रवेश किया था। इस टूर्नामेंट में कुल छह देशों ने भाग लिया था। 

 

वीवीएस लक्ष्मण ने दी बधाई 

भारतीय दिव्यांग क्रिकेट टीम की इस उपलब्धि पर पूर्व भारतीय क्रिकेटर और मौजूदा कमेंटेटर ने टीम को बधाई दी है। लक्ष्यन ने पूरी टीम की फोटो शेयर करते हुए कैप्शन में लिखा, भारतीय दिव्यांग क्रिकेट टीम टीम को विश्व क्रिकेट सीरीज 2019 जीतने पर बहुत-बहुत बधाई।

.
.
.
.
.