Sports

नई दिल्ली : भारत के गैर खिलाड़ी कप्तान रोहित राजपाल का मानना है कि डेनमार्क के खिलाफ चार और पांच मार्च को यहां दिल्ली जिमखाना क्लब में ग्रास कोर्ट पर होने वाले डेविस कप विश्व ग्रुप प्लेऑफ एक मुकाबले में जीत के प्रबल दावेदार के रूप में उतरेगा। 

राजपाल ने दिल्ली जिमखाना क्लब में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘रामकुमार रामनाथन ग्रास कोर्ट पर सर्व और वॉली का बढ़िया गेम खेलते हैं जबकि युकी भाम्बरी को ग्रास कोर्ट पसंद है। युगल विशेषज्ञ रोहन बोपन्ना ग्रास कोर्ट के महारथी हैं। हमें साथ ही डेनमार्ट की सहजता और असहजता को भी देखना था। डेनमार्ट के खिलाड़ी ग्रास कोटर् पर रामकुमार के सामने सहज महसूस नहीं कर सकते। 

संवाददाता सम्मेलन में अखिल भारतीय टेनिस संघ के अध्यक्ष और डेविस कप आयोजन समिति के अध्यक्ष अनिल जैन, दिल्ली जिमखाना क्लब के प्रशासक और आयोजन समिति के सह अध्यक्ष ओम पाठक और टूर्नामेंट निदेशक आदित्य खन्ना भी मौजूद थे। राजपाल ने साथ ही कहा, ‘हमारे पास इस बार जीतने का अच्छा मौका है। हालांकि हम किसी टीम को हलके में नहीं ले रहे लेकिन हमें अपने कोर्ट पर अपने दर्शकों के सामने खेलने का पूरा फायदा रहेगा। वैसे भी भारत पारम्परिक तौर पर ग्रास कोटर् पर अच्छा खेलता है।' 

भारत लगभग 50 साल बाद दिल्ली जिमखाना क्लब में डेविस कप की मेजबानी करने जा रहा है। सितम्बर 1984 के बाद से भारत और डेनमार्क के बीच यह पहला मुकाबला होगा। भारत ने 1984 में आरहूस में डेनमार्क के खिलाफ 3-2 से जीत दर्ज की थी। दोनों के बीच पहला मुकाबला 1927 में हुआ था। तब डेनमार्क ने कोपेनहेगन में क्वाटर्रफाइनल में भारत को 5-0 से हरा दिया था। भारत को तीन साल बाद घरेलू मुकाबले की जिम्मेदारी सौंपी गई है जबकि दिल्ली पांच साल से ज्यादा समय के बाद डेविस कप मुकाबले की मेजबानी कर रही है। 

.
.
.
.
.