Sports

राजकोट : शीर्ष बल्लेबाजों के उपयोगी योगदान तथा गेंदबाजों के आक्रामक तेवरों के दम पर भारत ने दूसरे एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में ऑस्ट्रेलिया को शुक्रवार को यहां 36 रन से शिकस्त देकर तीन मैचों की श्रृंखला 1-1 से बराबर की। शिखर धवन (90 गेंदों पर 96 रन) केवल चार रन से शतक से चूक गए लेकिन उन्होंने विराट कोहली (76 गेंदों पर 78 रन) और केएल राहुल (52 गेंदों पर 80 रन) को आक्रामक पारियां खेलने के लिए शानदार मंच दिया जिससे भारत छह विकेट पर 340 रन का मजबूत स्कोर बनाने में सफल रहा। 

PunjabKesari

बड़े लक्ष्य के सामने ऑस्ट्रेलिया तभी अच्छी स्थिति में दिख रहा था जब स्टीवन स्मिथ (102 गेंदों पर 98 रन) और मार्नस लाबुशेन (47 गेंदों पर 46 रन) क्रीज पर थे। ऑस्ट्रेलिया की टीम आखिर में 49.1 ओवर में 304 रन ही बना पाई। भारत की तरफ से मोहम्मद शमी (77 रन देकर तीन), रविंद्र जडेजा (58 रन देकर दो), नवदीप सैनी (62 रन देकर दो), कुलदीप यादव (65 रन देकर दो) और जसप्रीत बुमराह (32 रन देकर एक) ने विकेट लिए। 

PunjabKesari

राहुल ने विकेट के पीछे भी अच्छा प्रदर्शन किया तथा 2 कैच और एक स्टंप किया। ऑस्ट्रेलिया ने मुंबई में खेला गया पहला मैच 10 विकेट से जीता था लेकिन भारत ने दमदार वापसी करके श्रृंखला को रोमांचक बना दिया। तीसरा और अंतिम एकदिवसीय मैच रविवार को बेंगलुरू में खेला जाएगा। पिछले मैच में शतक जड़ने वाले ऑस्ट्रेलियाई सलामी बल्लेबाज डेविड वार्नर (15) और कप्तान आरोन फिंच (33) आज कुछ कमाल नहीं दिखा पाए। 

PunjabKesari

वार्नर ने शमी की गेंद पर कैच दिया जबकि राहुल ने विकेटकीपर के रूप में अपनी चपलता का अद्भुत प्रदर्शन करते हुए फिंच को स्टंप करके जडेजा और भारत को महत्वपूर्ण विकेट दिलाया। स्मिथ ने टेस्ट क्रिकेट में बेहतरीन फार्म दिखाने वाले लाबुशेन के साथ मिलकर सहजता से रन बटोरे। जब यह जोड़ी भारत के लिए खतरा बनती जा रही थी तब रन गति तेज करने के प्रयास में लाबुशेन की एकाग्रता भंग हुई और उन्होंने जडेजा की गेंद पर मिड आफ पर आसान कैच थमा दिया। स्मिथ और लाबुशेन ने तीसरे विकेट के लिए 96 रन जोड़े।

PunjabKesari

कुलदीप ने चार गेंद के अंदर एलेक्स कैरी (18) और स्मिथ के विकेट लेकर मैच को पूरी तरह से भारत के पक्ष में मोड़ दिया। कैरी ने एक्स्ट्रा कवर पर आसान कैच थमाया जो कुलदीप का इस प्रारूप में 100वां विकेट भी था। स्मिथ ने आसान मानी जा रही गेंद को अपने विकेटों पर खेलकर अपना विकेट इनाम में दिया। उन्होंने अपनी पारी में 9 चौके और एक छक्का लगाया। शमी ने एलेक्स टर्नर (13) और पैट कमिन्स (शून्य) को लगातार गेंदों पर आउट करके रही सही कसर पूरी कर दी जबकि नवदीप सैनी ने भी एशटन एगर (25) और मिशेल स्टार्क (छह) को तीन गेंद के अंदर पवेलियन भेजा। केन रिचर्डसन (11 गेंदों पर नाबाद 24) ने शमी का गेंदबाजी विश्लेषण बिगाड़कर हार का अंतर कम किया।

इससे पहले धवन ने अपने सलामी जोड़ीदार रोहित शर्मा (42) के साथ पहले विकेट के लिए 81 रन जोड़े और फिर कोहली के साथ दूसरे विकेट के लिये 103 रन की साझेदारी निभाई। कोहली और राहुल ने भी केवल 10.3 ओवर में 78 रन की भागीदारी की। राहुल ने आखिरी ओवरों में तेजी से रन बटोरने में अहम भूमिका निभायी। धवन की पारी में 13 चौके और एक छक्का शामिल है जबकि कोहली ने छह चौके लगाए। पैट कमिन्स पर लगाया गया उनका चौका दर्शनीय था।

PunjabKesari

राहुल ने अपने आक्रामक अंदाज का खुलकर प्रदर्शन किया तथा 6 चौके और 3 छक्के लगाये तथा इस दौरान वनडे में 1000 रन पूरे किए। उन्होंने मिशेल स्टार्क पर भी छक्का जड़ा। स्टार्क काफी महंगे साबित हुए और उन्होंने दस ओवर में 78 रन दिए। उन्हें कोई सफलता भी नहीं मिली। जम्पा जंपा (10 ओवर में 50 रन देकर तीन) आस्ट्रेलिया के सबसे सफल गेंदबाज रहे। कोहली जब अपने 44वें शतक की तरफ बढ़ रहे थे तब उन्होंने भारतीय कप्तान को पवेलियन भेजा। यह सीमित ओवरों की क्रिकेट में सातवां अवसर है जबकि जंपा ने कोहली को आउट किया। जम्पा ने इससे पहले रोहित को पगबाधा आउट करके उन्हें बड़ी पारी नहीं खेलने दी थी।

PunjabKesari

धवन ने फिर से खुद को टीम का महत्वपूर्ण बल्लेबाज साबित किया। उन्होंने 60 गेंदों पर आस्ट्रेलिया के खिलाफ अपना छठा अर्धशतक पूरा किया। इससे पहले उन्होंने जनवरी 2019 में न्यूजीलैंड के खिलाफ लगातार मैचों में अर्धशतक लगाये थे। यह उनका कुल 29वां पचासा है। बायें हाथ के इस बल्लेबाज ने विशेष तौर पर एशटन एगर (आठ ओवर में 63 रन) को निशाना बनाया जिन पर 25वें ओवर में उन्होंने लगातार दो चौके और 27वें ओवर में चौका और छक्का लगाया। धवन हालांकि अपने 18वें शतक से चूक गए। उन्होंने केन रिचर्डसन (73 रन देकर दो) की गेंद पुल करके फाइन लेग पर कैच दिया। श्रेयस अय्यर (सात) और मनीष पांडे (दो) दोनों नाकाम रहे जबकि रविंद्र जडेजा ने नाबाद 20 रन बनाए। 

प्लेइंग इलेवन :

भारत : रोहित शर्मा, शिखर धवन, विराट कोहली (कप्तान), लोकेश राहुल (विकेटकीपर), श्रेयस अय्यर, मनीष पांडे, रवींद्र जडेजा, मोहम्मद शमी, नवदीप सैनी, कुलदीप यादव, जसप्रीत बुमराह 

ऑस्ट्रेलिया: डेविड वार्नर, आरोन फिंच (कप्तान), मार्नस लाबुस्चगने, स्टीवन स्मिथ, एश्टन टर्नर, एलेक्स केरी (विकेटकीपर), एश्टन अगर, पैट कमिंस, मिशेल स्टार्क, केन रिचर्डसन, एडम ज़म्पा

.
.
.
.
.