Sports

नई दिल्ली: धुरंधर स्पिनर हरभजन सिंह आजकल खेल नहीं बल्कि दुनिया के हर इंसान की तरह कोविड-19 के बारे में सोच रहे हैं और उनका अधिकतर समय इस महामारी को लेकर नई जानकारी हासिल करने में बीत रहा है। हरभजन अभी अपने परिवार (पत्नी गीता और पुत्री हिनाया) के साथ मुंबई में हैं और उन्हें उम्मीद है कि वैज्ञानिक और चिकित्सक इस महामारी की दवा ढूंढने में सफल रहेंगे जिसके कारण अब तक दुनिया भर में 20 हजार से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है।

PunjabKesari
दरअसल, एक वेबसाइट से बातचीत के दौरान हरभजन ने कहा, ‘संकट की इस घड़ी में आप जिंदगी को पूरी तरह अलग नजरिए से देखते हो। ऐसे समय में खेल आपके दिमाग के किसी दूर कोने में चला जाता है। मैं घर में हूं। मैं अपना अधिकतर समय कोविड-19 के बारे में जानकारी हासिल करने में बिता रहा हूं।' आखिर वह क्या पढ़ रहे हैं, इस पर हरभजन ने कहा, ‘मैं उपलब्ध जानकारी के हर प्रमाणिक हिस्से को पढ़ने की कोशिश करता हूं।

वर्तमान परिस्थिति को लेकर सरकार की तरफ से जारी सभी नई जानकारियां पढ़ रहा हूं। सबसे महत्वपूर्ण मैं यह जानने की कोशिश करता हूं कि वैज्ञानिक, जीव विज्ञानी और चिकित्सक इसका क्या तोड़ ढूंढ रहे हैं।' उन्होंने कहा, ‘संकट की इस घड़ी में आपको अपना जज्बा बनाये रखना होता है और खुद को प्रेरित करना होता है। कोई भी सकारात्मक जानकारी आपका मनोबल बढ़ाती है।'

.
.
.
.
.