Sports

दुबई: अंतररष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने स्पष्ट किया है कि वैश्विक महामारी कोविड-19 के बीच आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप के आयोजन में किसी भी तरह की कोई फेरबदल नहीं हुआ है और यह तय योजना के मुताबिक आगे बढ़ रही है। आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप का पहला संस्करण मार्च 2021 में समाप्त होना है। इस दौरान सभी नौ टीमें दो वर्षों में कुल छह टेस्ट सीरीज खेलेंगी। तीन घरेलू मैदान पर और तीन विदेशी सरजमीं पर। इनमें शीर्ष दो टीमों के बीच जून 2021 में इंग्लैंड के लॉर्ड्स मैदान पर फाइनल खेला जाएगा।

PunjabKesari
आईसीसी के क्रिकेट संचालन के महाप्रबंधक ज्योफ एलरडाइस ने कहा, ‘हम सीरीज के मैचों को पुनर्निर्धारित करने को लेकर सदस्यों देशों से बातचीत की प्रक्रिया में हैं।'  उन्होंने कहा, ‘कुछ सदस्यों के साथ बातचीत चल रही है लेकिन हम सभी सदस्य देशों से अपडेट पाने की प्रक्रिया में हैं कि वे इस मामले पर क्या विचार कर रहे हैं। फिलहाल, सब कुछ योजना के मुताबिक आगे बढ़ रहा है। इंग्लैंड में चल रही मौजूदा सीरीज डब्ल्यूटीसी का हिस्सा है और बाकी उन सभी सीरीज भी जिनकी पहचान की गई है, जो चैंपियनशिप का हिस्सा होंगी। अब यह देखने वाली बात होगी कि क्या ये सभी सीरीज अगले वर्ष मार्च तक संपन्न हो पाएंगी।' 

PunjabKesari
टेस्ट चैंपियनशिप की तालिका में भारत पहले, ऑस्ट्रेलिया दूसरे और इंग्लैंड तीसरे स्थान पर है। भारत के 360, ऑस्ट्रेलिया के 296 और इंग्लैंड के 226 अंक हैं। न्यूजीलैंड 180 अंकों के साथ चौथे स्थान पर है। पाकिस्तान 140 अंकों के साथ पांचवें, श्रीलंका 80 अंकों के साथ छठे, वेस्ट इंडीज 40 अंकों के साथ सातवें और दक्षिण अफ्रीका 24 अंकों के साथ आठवें स्थान पर है। नौंवें स्थान पर मौजूद बंगलादेश का अभी खाता नहीं खुला है।  

.
.
.
.
.