Sports

नई दिल्ली : हॉकी इंडिया ने बुधवार को भारतीय महिला हॉकी टीम की फॉरवर्ड वंदना कटारिया को प्रतिष्ठित पद्म श्री पुरस्कार के लिए चुने जाने पर बधाई दी। हॉकी इंडिया के अध्यक्ष ज्ञानेंद्र निंगोमबम ने वंदना को बधाई देते हुए कहा, ‘यह महिला हॉकी के लिए बहुत गर्व का क्षण है। मैं वंदना को प्रतिष्ठित पद्मश्री पुरस्कार के लिए नामित होने पर बधाई देता हूं। वह महिला हॉकी टीम में सबसे अनुभवी खिलाड़यिों में से एक रही हैं और पिछले एक दशक में विश्व स्तर पर महिला हॉकी के उदय का हिस्सा रही हैं और मेरी इच्छा है कि वह राष्ट्रीय टीम के लिए अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन जारी रखें।' 

उल्लेखनीय है कि वंदना उन 9 एथलीटों में शामिल हैं और इस साल इकलौती हॉकी खिलाड़ी हैं, जिन्हें इस प्रतिष्ठित पुरस्कार के लिए चुना गया है जिसे राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद द्वारा प्रदान किया जाएगा। उत्तराखंड के हरिद्वार जिले के रोशनाबाद की रहने वाली वंदना ने हाल ही में भारत के लिए 250वां मैच खेला था। वह भारतीय महिला हॉकी टीम के लिए एक अनुभवी आक्रमण लाइन का हिस्सा रही हैं और ओलंपिक खेलों में गोलों की हैट्रिक करने वाली पहली भारतीय महिला खिलाड़ी भी बनीं हैं। 

वंदना टोक्यो ओलंपिक खेलों 2020 में भारत के ऐतिहासिक चौथे स्थान पर रहने के अभियान का हिस्सा थीं। वह इससे पहले 2016 में एशियाई चैंपियंस ट्रॉफी, 2017 में एशिया कप और 2014 में एशियाई खेलों में स्वर्ण तथा 2018 एशियाई खेलों में भारत की रजत पदक जीत और कई अन्य उपलब्धियों में भी टीम का हिस्सा रही हैं। वंदना जर्मनी में एफआईएच हॉकी जूनियर विश्व कप महिला 2013 में देश की शीर्ष गोल स्कोरर रहीं थीं, जहां भारत ने कांस्य पदक जीता था। इसी साल वंदना मलेशिया में आठवें महिला एशिया कप में कांस्य पदक जीतने वाली टीम का हिस्सा बनीं थीं। 

.
.
.
.
.