Sports

स्पोर्ट्स डेस्क : भारतीय क्रिकेट टीम ने हाल ही में एक शो के दौरान कहा कि इतनी मेहनत उन्होंने क्रिकेट के लिए भी नहीं की जितनी 10वीं की कक्षा में मैथ्स में पास होने के लिए की थी। उन्होंने कहा कि उनके मैथ्स में 3 नम्बर आते थे। एक अमेरिकी टीवी शो के दौरान कोहली ने अपने जीवन से जुड़े राज बताते हुए इस बात का खुलासा किया है।

कोहली ने बातचीत करते हुए कहा कि मैथ्स का पेपेर 100 नंबर का होता था जिसमें मेरे मेरे 3 नंबर आते थे। उन्होंने कहा कि मुझे ये बात समझ में नहीं आती थी कि कोई गणित क्‍यों पढ़ता है। मैंने मैथ्स के फॉर्मूलों को जीवन में कभी इस्‍तेमाल नहीं किया। कोहली ने कहा, 'मैं 10वीं की परीक्षा पास कर लेना चाहता था क्योंकि इसके बाद आप अपने विषय चुन सकते थे जिसमें मैथ्स जरूरी नहीं था।

उन्होंने कहा कि मैं ये बात साफ कर दूं कि जिस तरह से मैंने उस परीक्षा को पास करने के लिए मेहनत की उस तरह से तो क्रिकेट के लिए भी नहीं की। कोहली ने कहा कि वह स्‍कूल में कभी भी सबसे होशियार बच्‍चे नहीं रहे लेकिन चीजें सीखने में तेज थे। गौर हो कि कोहली के नेतृत्व में हाल ही में भारतीय टीम ने वेस्टइंडीज को टी20, वनडे और टेस्ट सीरीज में बुरी तरह हराया है। अब भारतीय टीम दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ घरेलू सीरीज खेलेगी। 

.
.
.
.
.