Sports

मस्कट : भारतीय महिला हॉकी टीम की उपकप्तान दीप ग्रेस इक्का ने कहा है कि आगामी एशिया कप से 2022 के व्यस्त सत्र के लिए टीम की लय बनेगी चूंकि इस साल एशियाई खेल और राष्ट्रमंडल खेलों जैसे बड़े टूर्नामेंट होने हैं। यहां 21 से 28 जनवरी तक होने वाले एशिया कप के जरिए भारतीय टीम एफआईएच महिला विश्व कप में जगह बनाने की कोशिश करेगी। 

भारत को पहले मैच में 21 जनवरी को मलेशिया से खेलना है। यह टूर्नामेंट जीतने पर स्पेन और नीदरलैंडमें इस साल होने वाले विश्व कप में सीधे प्रवेश मिलेगा। इक्का ने हॉकी इंडिया द्वारा जारी बयान में कहा, ‘इस टूर्नामेंट में अच्छा प्रदर्शन जरूरी है ताकि 2022 की चुनौतियों के लिये लय मिल सके। इस साल अनेक टूर्नामेंट होने हैं और हम जितना ज्यादा खेलेंगे, उतना ही खुद को आंकने का मौका मिलेगा।' 

भारत के अलावा चीन, इंडोनेशिया, जापान, मलेशिया, सिंगापुर, इडोनेशिया, जापान, मलेशिया, सिंगापुर, दक्षिण कोरिया और थाईलैंड भी इसमें खेल रहे हैं। इक्का ने कहा, ‘हमारे लिए यह नई शुरूआत है। यह टोक्यो ओलंपिक के बाद हमारा पहला पूरा टूर्नामेंट होगा चूंकि कोरिया में महिला एशियाई चैम्पियंस ट्रॉफी में हम एक ही मैच खेल सके थे।' भारत ने 2017 महिला एशिया कप जीतकर 2018 विश्व कप के लिये क्वालीफाई किया था। भारतीय टीम ने 2018 एशिया कप में भी रजत पदक जीता था। 

.
.
.
.
.