Sports

स्पोर्ट्स डेस्क : पूर्व भारतीय कप्तान सुनील गावस्कर ने 50 साल पहले सन् 1971 में आज ही के दिन टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू किया था। इस खास मौके पर भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के सचिव जय शाह ने उन्हें टेस्ट ट्रिब्यूट के रूप में टेस्ट कैप दी। टेस्ट कैप मिलने के बाद गावस्कर की खुशी का ठिकाना नहीं था और उन्होंने बाउंड्री लाइन के पास जाकर दर्शकों का धन्यवाद भी किया जो उन्हें सपोर्ट करते हैं। 

इस खास मौके पर गावस्कर ने सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर कदम रखा और उनका इंस्टाग्राम अकाउंट भी बना लिया है। गावस्कर के बेटे रोहन ने इस बारे में ट्वीट करते हुए लिखा, अब और डेब्यू। इस बार इंस्टाग्राम पर। इंस्टाग्राम पर गावस्कर ने पहली फोटो एक पुरानी यादगार के पूर में अपलोड की और कैप्शन में लिखा, हैलो इंस्टाग्राम। मुझे लगता है कि मैं एक और डेब्यू के लिए तैयार हूं। 

गावस्कर ने 6 मार्च 1971 को वेस्टइंडीज के खिलाफ पोर्ट ऑफ स्पेन में डेब्यू टेस्ट मैच खेला था। अपने क्रिकेट करियर के दौरान कई रिकाॅर्ड तोड़े और कई रिकाॅर्ड कायम करते हुए बेहतरीन बल्लेबाज के रूप में उबरे। 1970-71 में पांच मैचों की सीरीज का वेस्टइंडीज दौरान सबसे यादगार पलों में से एक है, क्योंकि पहली बार भारत वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट सीरीज जीता था। 

गावस्कर के नाम टेस्ट क्रिकेट में एक बड़ी उपलब्धि है। उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में तीन बार दोनों इनिंग्स में शतक लगाया है। ऐसा करने वाले वह पहले खिलाड़ी हैं। इस लिस्ट में दूसरे नम्बर पर रिकी पोंटिंग और दूसरे नम्बर पर डेविड वाॅर्नर हैं। 

अपने करियर के दौरान गावस्कर ने 125 टेस्ट और 108 वनडे मैच खेले और वह 1983 और 1985 वर्ल्ड चैम्पियनशिप का हिस्सा भी रहे। गावस्कर ने खेल के लम्बे प्रारूप में उन्होंने 10,122 रन बनाए। उनका ये रिकाॅर्ड 2005 तक रहा जब सचिन तेंदुलकर ने इस आंकड़े को पार किया। वनडे में गावस्कर ने 3092 रन बनाए और उनका हाइएस्ट नाबाद 103 रहा। 

.
.
.
.
.