Sports

नई दिल्ली : स्पेन दौरे पर गए जूनियर एशियाई चैम्पियनशिप के पदक विजेता सहित 2 जूडो खिलाड़ी और एक कोच को स्थानीय महिला खिलाडिय़ों के साथ ‘झड़प’ के आरोप में देश वापस बुला लिया गया। भारतीय खेल प्राधिकरण (साइ) से जुड़े एक राष्ट्रीय कोच ने दावा किया कि एक जूडो खिलाड़ी महिला खिलाडिय़ों के एक समूह से विवाद में उलझ गया और फिर बाद में उसके कमरे में एक महिला मिली। अभी यह पता नहीं चल पाया है कि ये महिला खिलाड़ी भी जूडो से जुड़ी थी या नहीं।

कोच ने कहा कि एहतियात के तौर पर जूडो खिलाड़ी, उसके कमरे में रहने वाले दूसरे जूडो खिलाड़ी और उनके कोच को भारत वापस बुला लिया गया है। यह जूडो खिलाड़ी महिलाओं के समूह के साथ विवाद में उलझा था और फिर उसमें से एक महिला इस भारतीय खिलाड़ी के कमरे में थी। उन्होंने बताया कि दूसरा जूडो खिलाड़ी घटना में शामिल नहीं था लेकिन वह आरोपी खिलाड़ी के साथ कमरा साझा कर रहा था। जूडो महासंघ कोई खतरा नहीं मोल लेना चाहता था इसलिए उसने दोनों को स्वदेश वापस बुला लिया है।

भारतीय जूडो महासंघ के प्रशासक न्यायाधीश पंकज नकवी ने भी मामले की पुष्टि करते हुए कहा कि ‘यह गंभीर मामला’ है। उन्होंने कहा कि हमें स्पेन में भारतीय जूडो टीम से एक संदेश मिला है। कुछ गंभीर घटना हुई, इसलिए जेएफआई इस मामले में शामिल खिलाडिय़ों को भारत वापस बुला रहा है। मेरे पास केवल एकतरफा आरोप हैं और मैं इस पर कुछ भी टिप्पणी नहीं करूंगा। बर्मिंघम राष्ट्रमंडल खेलों के लिए जाने वाले जूडो खिलाड़ी सहित 30 सदस्यीय भारतीय दल इस समय स्पेन के बेनिडोर्म के एलिकांटे में है। कोविड-19 महामारी के बाद यह उनका पहला अनुकूलन दौरा है।

.
.
.
.
.