Sports

ज्यूरिख : फीफा ने विश्व कप प्लेआफ मैच के दौरान दर्शकों के बुरे बर्ताव और मिस्र के दिग्गज खिलाड़ी मोहम्मद सालाह के चेहरे पर लेजर लाइट मारने के लिए सेनेगल के फुटबॉल महासंघ पर सोमवार को 1,75,000 स्विस फ्रैंक (लगभग 1.38 करोड़ रुपए)  का जुर्माना लगाया है। इस मैच में सालाह जब पेनल्टी पर किक मारने के तैयार हुए तो दर्शकों ने उनके चेहरे पर हरे रंग पर लेजर लाइट का इस्तेमाल किया। इससे उनका ध्यान भटका और गेंद गोल पोस्ट से टकरा गई। वह गोल करने से चूक गए।

मार्च में डकार में खेले गये इस मैच में सालाह के लिवरपूल टीम के साथी सादियो माने ने  निर्णायक स्पॉट किक को गोल में बदलकर सेनेगल को जीत दिलायी थी। फीफा ने कहा कि उसकी अनुशासन समिति ने सेनेगल के प्रशंसकों द्वारा मैदान में उतरने,  एक अमर्यादित बैनर और राष्ट्रीय महासंघ की ‘स्टेडियम में कानून और व्यवस्था बनाए रखने में विफलता’ की जांच की थी।

इसके साथ ही सेनेगल को भविष्य में अपना एक मैच खाली स्टेडियम में खेलने का आदेश दिया गया। फीफा अनुशासनात्मक समिति ने जनवरी से खेले गए विश्व कप क्वालीफाइंग मैचों के दौरान दर्शकों के खराब व्यवहार के कारण कुछ अन्य देशों को ऐसी सजा दी है। उसने नाइजीरिया, कांगो, लेबनान, चिली और कोलंबिया पर भी  इस तरह के जुर्माने लगाए।

.
.
.
.
.