Sports

हेम्बर्ग, जर्मनी ( निकलेश जैन ) में शुरू हो रही फीडे ग्रां प्री के तीसरे पड़ाव में भारत के पेंटाला हरिकृष्णा एक बार फिर दमखम लगाते हुए नजर आएंगे साथ ही यह उनके पास आखिरी मौका होगा जब वह फीडे कैंडीडेट में पहुँचने की राह पकड़ सकते है । प्रतियोगिता में 9 देशो के चुनिन्दा 16 खिलाड़ी नॉकआउट फॉर्मेट में आमने सामने होंगे । हर राउंड में दो मुक़ाबले खेले जाएँगे और परिणाम ना निकलने पर रैपिड और ब्लिट्ज़ मुक़ाबले के टाईब्रेक से परिणाम निकाले जाएँगे । प्रतियोगिता में सभी खिलाड़ी उनकी रेटिंग के आधार पर चुने गए है । भारत के पेंटाला हरिकृष्णा की यह दूसरी फीडे ग्रां प्री होगी । प्रतियोगिता में रूस से सबसे ज्यादा 6 खिलाड़ी अलेक्ज़ेंडर ग्रीसचुक ,इयान नेपोंनियची ,पीटर स्वीडलर ,डेनिएल डुबोव ,निकिता वितुगोव  और दिमित्री जाकेवेंकों खेलेंगे ,उसके बाद चीन से दो खिलाड़ी वे यी और यू यांगी , पोलैंड से दो राडोसलाव और जान डुड़ा ,फ्रांस के मेक्सिम लागरेव ,अमेरिका के हिकारु नाकामुरा ,बुल्गारिया के वेसलिन टोपालोव ,अजरबैजान के तिमूर राद्जाबोव और चेक गणराज्य के डेविड नवारा खेलते नजर आएंगे ।

पहले राउंड में भारत के पेंटाला हरिकृष्णा के सामने रूस के पीटर स्वीडलर के तौर पर एक कठिन चुनौती है देखना होगा की क्या हरि अपने पुराने खराब प्रदर्शन को पीछे छोड़ते हुए आगे बढ़ेंगे । प्रतियोगिता 5 नवंबर से प्रतियोगिता 17 नवंबर तक चलेगी और विजेता बनने वाले खिलाड़ी के पास फीडे कैंडीडेट में जाने का रास्ता खुल सकता है । 

.
.
.
.
.