Sports

मुंबई : पूर्व ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज ग्लेन मैकग्रा का भारतीय गेंदबाजी इकाई पर भरोसा कायम है और उन्होंने बुधवार को कहा कि न्यूजीलैंड के खिलाफ शुरूआती टेस्ट में मिली 10 विकेट की हार के बावजूद यह ‘विश्व स्तरीय' आक्रमण बना रहेगा। इशांत शर्मा ने पांच विकेट चटकाए जबकि उनके साथी जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद शमी को एक एक ही विकेट मिल सका जिससे न्यूजीलैंड ने वेलिंगटन टेस्ट में एक समय छह विकेट पर 216 रन के बावजूद पहली पारी में 348 रन का स्कोर बनाया। 

मैकग्रा ने यहां पत्रकारों से कहा, ‘मुझे अब भी भारतीय गेंदबाजी आक्रमण पर पूरा भरोसा है। उन्हें पिछले कुछ समय से चोटों से जूझना पड़ रहा है। शर्मा वापसी कर रहे हैं और वह पांच विकेट चटकाने में सफल रहे। बुमराह को भी चोटें लगी थीं और वह वापसी कर रहे हैं। इसलिए हां, मुझे लगता है कि भारतीय गेंदबाजी आक्रमण विश्व स्तरीय है और इसमें कोई शक नहीं है।' 

उन्होंने कहा, ‘मुझे गेंदबाजी आक्रमण से कोई दिक्कत नहीं है, आप एक रात में फार्म नहीं गंवा देते। यह उन चीजों में शामिल रहा होगा जिसमें टास काफी अंतर पैदा करता है (न्यूजीलैंड में पहले टेस्ट में), लेकिन आपको फिर भी विकेट चटकाने और रन जुटाने होते हैं।' मैकग्रा ने इशांत की प्रशंसा के साथ शमी और बुमराह के प्रदर्शन की भी सराहना की। 

उन्होंने कहा, ‘इशांत को काफी अनुभव है, उसने पिछले दो वर्षों में शानदार तरीके से वापसी की है। मुझे लगा था कि उसका करियर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर खत्म हो गया है लेकिन उसने फिर से वापसी की और वह अच्छी गेंदबाजी कर रहे हैं।'

मैकग्रा ने कहा, ‘शमी काफी अच्छी रफ्तार से गेंदबाजी करता है और वह काफी अनुभवी है, वह खेल को अच्छी तरह समझता है।' उनहोंने कहा, ‘जसप्रीत भी छोटे रन अप से जैसे गेंदबाजी करता है, वह अलग ही है, वह गेंद को स्विंग कर सकता है, अच्छी तरह गेंद को निंयत्रित करता है।' 

.
.
.
.
.