Sports

मेलबर्न : कोरोना का टीका नहीं लगवाने के कारण वीजा दूसरी बार रद्द होने के बाद दुनिया के नंबर एक टेनिस खिलाड़ी नोवाक जोकोविच फिर आव्रजन हिरासत में हैं जबकि वीजा रद्द होने के खिलाफ उनकी अपील पर सुनवाई उच्च न्यायालय में होगी। फेडरल कोर्ट में मामले की सुनवाई रविवार को होगी जबकि सोमवार से साल का पहला ग्रैंडस्लैम आस्ट्रेलियाई ओपन शुरू हो रहा है। पुलिस ने उस इमारत के पीछे की लेन बंद कर दी है जहां जोकोविच के वकील ठहरे हैं।

शनिवार को दोपहर के समय दो वाहन वहां से बाहर निकले। टीवी फुटेज में जोकोविच को पीछे की सीट पर मास्क पहने बैठे दिखाया जब वाहन आव्रजन हिरासत होटल के बाहर रूका। आस्ट्रेलियाई एसोसिएट प्रेस ने बताया कि जोकोविच फिर हिरासत में हैं। उन्होंने पहले भी चार रातें इसी होटल में बिताई थीं। आव्रजन मंत्री एलेक्स हॉके ने शुक्रवार को कहा कि उन्होंने मंत्री के तौर पर अपने विशेषाधिकार का प्रयोग करके सर्बिया के इस 34 वर्षीय खिलाड़ी का वीजा जनहित आधार पर रद्द कर दिया है। हॉके ने कहा कि उन्होंने जनहित को ध्यान में रखकर स्वास्थ्य कारणों से यह फैसला लिया है।

उन्होंने एक बयान में कहा कि मौरिसन सरकार आस्ट्रेलियाई सीमाओं की कोरोना महामारी के इस दौर में रक्षा करने को लेकर प्रतिबद्ध है। जोकोविच का वीजा दूसरी बार रद्द हुआ है। पिछले सप्ताह मेलबर्न पहुंचते ही आस्ट्रेलिया सीमा बल द्वारा उनका वीजा रद्द कर दिया गया था क्योंकि आस्ट्रेलिया के कड़े कोरोना टीकाकरण नियमों से मेडिकल छूट के लिए जरूरी मानदंडों पर वह खरे नहीं उतरते थे।

उन्होंने चार रात पृथकवास होटल में बिताई जिसके बाद सोमवार को जज ने उनके पक्ष में फैसला दिया। इस बीच जोकोविच ने सोशल मीडिया पोस्ट में स्वीकार किया था कि उनके यात्रा विवरण फॉर्म में गलती थी लेकिन उन्हें इसे अपने एजेंट द्वारा अनजाने में की गई मानवीय गलती बताया।  

.
.
.
.
.