Sports

कोलकाता : राजस्थान रॉयल्स के स्टार बल्लेबाज जोस बटलर पिछले कुछ मुकाबलों में अपने प्रदर्शन से ‘निराश' हैं लेकिन उन्होंने कहा कि वह प्लेऑफ में जगह बनाने से पहले टूर्नामेंट के शुरुआती चरण में अपनी बड़ी पारियों से आत्मविश्वास हासिल करेंगे। इंग्लैंड के विकेटकीपर बल्लेबाज बटलर ने मौजूदा सत्र में तीन शतक और तीन अर्धशतक की मदद से 147 के स्ट्राइक रेट के साथ 629 रन बनाए हैं लेकिन पिछले तीन मैच में वह दो, दो और सात रन की पारियों के साथ केवल 11 रन बना पाए हैं। 

बटलर ने मंगलवार को ईडन गार्डन्स में टाइटंस के खिलाफ होने वाले पहले क्वालीफायर से पूर्व कहा, ‘बेशक मैं आईपीएल में अपनी फॉर्म को लेकर रोमांचित था लेकिन पिछले कुछ मैच के प्रदर्शन से निराश हूं।' उन्होंने कहा, ‘टूर्नामेंट के पहले हाफ में मैं संभवत: अपने करियर के सर्वश्रेष्ठ क्रिकेट में से कुछ खेल रहा था और प्ले आफ से पहले उस प्रदर्शन से आत्मविश्वास हासिल कर रहा हूं।' मौजूदा सत्र में गेंद और बल्ले दोनों से अपने प्रदर्शन से प्रभावित करने वाले अनुभवी स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने कहा कि ‘रिटायर्ड आउट' जैसे कुछ फैसले टीम को प्रतिस्पर्धी रूप से फायदा पहुंचा सकते हैं बशर्ते सही तरह से लिए जाएं। 

रिटायर्ड आउट में बल्लेबाज अपनी मर्जी से पवेलियन लौट जाता है और उसे आउट माना जाता है। मौजूदा सत्र में रॉयल्स के सबसे किफायती गेंदबाज अश्विन ने कहा, ‘यह समझना महत्वपूर्ण है कि यह फैसला कैसे अहम लम्हों पर आपको फायदे की स्थिति में ला सकता है। मुझे लगता है कि यह (रिटायर्ड आउट) भविष्य में टी20 क्रिकेट का हिस्सा होगा और मुझे लगता है कि यह बरकरार रहेगा।' उन्होंने कहा, ‘लोग समझेंगे कि यह जोखिम भरा है क्योंकि बल्लेबाज रिटायर्ड आउट होने के बाद दोबारा खेलने नहीं आ सकता और अगर चीजें आपके पक्ष में नहीं रहीं तो आपको इस पर सफाई देनी पड़ सकती है। लेकिन अगर इसे सही तरह से लागू किया गया तो यह आपके लिए फायदे वाली स्थिति हो सकती है।'  

.
.
.
.
.