Sports

 

बासेल (स्विट्जरलैंड) : बी साई प्रणीत ने शानदार प्रदर्शन करते हुए गुरुवार को दुनिया के आठवें नंबर के खिलाड़ी एंथोनी सिनिसुका गिनटिंग को हराकर बीडब्ल्यूएफ विश्व बैडमिंटन चैंपियनशिप के क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई लेकिन उनके हमवतन भारतीय एचएस प्रणय को हार का सामना करना पड़ा। दुनिया के 19वें नंबर के खिलाड़ी प्रणीत ने 42 मिनट में छठे वरीय इंडोनेशिया के एंथोनी को 21-19 21-13 से हराया।

क्वार्टर फाइनल में प्रणीत का सामना इंडोनेशिया के एक अन्य खिलाड़ी चौथे वरीय और एशियाई खेलों के गत चैंपियन जोनाथन क्रिस्टी से हो सकता है। इससे पहले प्रणय ने दुनिया के नंबर एक खिलाड़ी केंतो मोमोता को पहले गेम में कड़ी टक्कर दी लेकिन इसके बावजूद जापान के खिलाड़ी को 21-19 21-12 से जीत दर्ज करने से नहीं रोक पाए। प्रणय के खिलाफ मोमोता की पांच मैचों में यह पांचवीं जीत है। पहले गेम में प्रणीत की शुरुआत धीमी रही और वह 0-3 से पिछड़ गए। भारतीय खिलाड़ी हालांकि वापसी करते हुए 8-5 की बढ़त बनाने में सफल रहा और ब्रेक तक 11-8 से आगे था। ब्रेक के बाद एंथोनी जोरदार वापसी करते हुए 14-12 की बढ़त बनाने में सफल रहे। प्रणीत ने हालांकि धैर्य कायम करते हुए 18-19 के स्कोर पर लगातार तीन अंक के साथ पहला गेम जीत लिया।

दूसरे गेम में प्रणीत ने तेज शुरुआत करते हुए 6-2 की बढ़त बनाई लेकिन एंथोनी ब्रेक तक 11-8 से आगे हो गए। ब्रेक के बाद प्रणीत ने लगातार छह अंक के साथ 14-12 की बढ़त बनाई और इसे अंत तक बरकरार रखते हुए गेम और मैच जीत लिया। दूसरी तरफ मोमोता के खिलाफ प्रणय की शुरुआत खराब रही और वह जल्द ही 4-8 से पिछड़ गए। जापान का खिलाड़ी ब्रेक तक 11-7 से आगे था। प्रणय हालांकि आक्रामक खेल दिखाते हुए 11-12 से स्कोर बराबर करने में सफल रहे। मोमोता ने इसके बाद बढ़त को 19-17 तक पहुंचाया लेकिन प्रणय 19-19 पर स्कोर बराबर करने में सफल रहे। मोमोता ने बैकलाइन पर शानदार रिटर्न के साथ गेम प्वाइंट हासिल किया और इसके बाद दमदार स्मैश के साथ गेम जीत लिया। दूसरे गेम में मोमोता पूरी तरह हावी रहे। उन्होंने ब्रेक तक 11-5 की बढ़त बनाई। प्रणय ने उन्हें रोकने का सर्वश्रेष्ठ प्रयास किया लेकिन मोमोता को जीत दर्ज करने से नहीं रोक पाए। 

.
.
.
.
.