Sports

मानौस (ब्राजील) : भारतीय महिला फुटबॉल टीम को ब्राजील जैसी धुरंधर टीम ने चार देशों के अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंट के पहले मैच में 6-1 से हरा दिया। विश्व कप 2007 की उपविजेता ब्राजील के लिए डेबोरा ओलिवियरा ने पहले ही मिनट में गोल कर दिया। भारत की मनीषा कल्याण ने आठवें मिनट में बराबरी का गोल किया। जियोवाना कोस्टा ने 36वें मिनट में ब्राजील को फिर बढ़त दिला दी।

दूसरे हाफ में ब्राजील ने चार और गोल दाग दिए। उसके लिए एरियाडिना बोर्गेस (52वां , 81वां मिनट), कैरोलिन फेराज (54वां) और गेसे फेरेइरा (76वां) ने गोल किए। इस मैच के साथ ही ब्राजील की मिडफील्डर फोरमिगा ने 43 वर्ष की उम्र में फुटबॉल को अलविदा कह दिया। उन्होंने सात ओलंपिक और 7 विश्व कप खेले हैं।

विश्व रैंकिंग में सातवें स्थान पर काबिज ब्राजील और 57वीं रैंकिंग वाली भारतीय टीम के बीच यह मुकाबला बेमेल ही था। ब्राजील ने गेंद पर 70 प्रतिशत नियंत्रण बनाए रखा। भारत के लिए अच्छी बात मनीषा का गोल और गोलकीपर अदिति चौहान का प्रदर्शन रहा।

भारत के मुख्य कोच थॉमस डोनेर्बी ने मनीषा के गोल की तारीफ करते हुए कहा कि यह शीर्ष स्तरीय गोल था। इससे शुरूआत में टीम को आत्मविश्वास मिला और हमें वापसी का मौका भी। उन्होंने कहा कि ब्राजील से हारने में कोई शर्म नहीं है। हमें अपने साथ सकारात्मक चीजें ही लेनी है। टीम के लिए यह अच्छा सबक था जो आने वाले मैचों में काम आएगा। भारत को 29 नवंबर को चिली और दो दिसंबर को वेनेजुएला से खेलना है।

.
.
.
.
.