Sports

नई दिल्ली : भारतीय क्रिकेट बोर्ड की शीर्ष परिषद की 17 अक्टूबर को होने वाली आनलाइन बैठक में इंग्लैंड के खिलाफ आगामी घरेलू श्रृंखला, आस्ट्रेलिया दौरे के कार्यक्रम और घरेलू सत्र पर बात की जाएगी। बोर्ड अध्यक्ष सौरव गांगुली ने कहा था कि बीसीसीआई पूरी कोशिश करेगा कि इंग्लैंड के खिलाफ श्रृंखला भारत में ही हो। इसके साथ ही कोरोना वायरस महामारी से उपजे हालात के बावजूद घरेलू टूर्नामेंट हो सके।

भारत में कोरोना वायरस संक्रम के मामले करीब 70 लाख है और एक लाख से अधिक मौतें हो चुकी है। इंग्लैंड की टीम को अगले साल जनवरी से मार्च के बीच पांच टेस्ट, तीन वनडे और तीन टी20 मैच खेलने भारत आना है। भारत में कोरोना संक्रमण के बढते मामले देखकर श्रृंखला यूएई में आयोजित करने की भी अटकलें लगाई जा रही है। अगर भारत मेजबानी कर पाता है तो मुंबई में तीन अंतरराष्ट्रीय स्टेडियमों वानखेड़े, सीसीआई और डी वाई पाटिल स्टेडियम पर ‘बायो बबल' बनाया जा सकता है। अहमदाबाद का अत्याधुनिक मोटेरा स्टेडियम भी एक विकल्प है। बोर्ड ने 19 नवंबर से मुश्ताक अली ट्राफी के जरिए घरेलू सत्र शुरू करने की योजना बनाई थी लेकिन महामारी के कारण मौजूदा हालात को देखते हुए यह मुश्किल ही लग रहा है । 

.
.
.
.
.